DA Image
27 फरवरी, 2020|10:13|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मंदी और बिजली दरों में बढ़ोतरी मार डालेगी:उद्यमी

उत्तर प्रदेश विद्युत रेग्यूलेटरी कमीशन के चेयरमैन राजेश अवस्थी के नेतृत्व में आई टीम ने जब दर बढ़ाने पर लोगों की राय जाननी चाही तो उद्यमी परेशान हो उठे। उनका कहना है कि डालर के मुकाबले रुपए के कमजोर होने से पहले ही परेशानी में घिरे हुए हैं। यदि बिजली की दरों में बढ़ोतरी हो गई तो यूनिट चलाना मुशिकल हो जाएगा। जन सुनवाई में पहुंचे चालीस-पचास उपभोक्ताओं में ज्यादातर उद्यमी थे। जो एक स्वर में दर बढ़ाने का विरोध कर रहे थे। बिजली की दरें हर क्षेत्र में बढ़ेंगी। जिससे सभी की जेब कटेगी।


इसके बाद टीम ने ग्रेटर नोएडा पहुंच कर जन सुनवाई की । लोगों को इस कार्यक्रम के बारे में जानकारी नही होने की वजह से मात्र चालीस उपभोक्ता ही वहां पर आए। कुछ लोगों ने बिजली के रेट बढ़ाए जाने को गलत तो कुछ ने सही ठहराया। उपभोक्ताओं ने कटौती को कम करने को कहा।


 सूरजपुर के आरडब्ल्युए अध्यक्ष पी. एस.पुंडीर ने कहा कि आयोग बिजली के रेट बढ़ाने पर राय जानने के लिए तो दौड़ा चला आया। लेकिन,कटौती की समस्या से निजात नहीं दिलाने के लिए कुछ नहीं करता है। उद्ययमियों ने कहा कि रेट बढ़ाने के साथ बिजली भी सप्लाई भी सुधारनी होगी। उनका कहना था कि एक बार बिजली कटने पर प्लांट को दुबारा से शुरू करने पर छह घंटे  लग जाते हैं। इससे उत्पादन पर असर पड़ता है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:मंदी और बिजली दरों में बढ़ोतरी मार डालेगी:उद्यमी