class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

101 गरीब जोड़े बंधेंगे वैवाहिक सूत्र में

गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों के लिए उनके बच्चों की शादी किसी बोझ से कम नहीं होती। ऐसे लोगों की मदद के लिए भारत विकास परिषद ने हाथ बढ़ाया है जो 26 दिसम्बर को101 गरीब परिवार के लड़के लड़कियों की सामुहिक शादी करवाएंगे।

पत्रकार वार्ता में जानकारी देते हुए भारत विकास परिषद के अध्यक्ष टी.एन. चौरसिया ने बताया कि 26 दिसम्बर को सेक्टर-19 के बी ब्लॉक में सरल सामुहिक विवाह का आयोजन किया जा रहा है। विवाह के लिए मेरठ, मुजफ्फरनगर, गाजियाबाद, बुलंदशहर, फरीदाबाद, नोएडा, ग्रेटर नोएडा और उत्तरांचल समेत कई अन्य शहरों से कुल 202 लड़के-लड़कियों ने रजिस्ट्रेशन कराया है। इनमें से एक परिवार से 25 लोगों को समारोह में उपस्थित होने का निमंत्रण दिया गया है। वर-वधु को मिलाकर समारोह में 10104 लोगों को आमंत्रित किया गया है।

समारोह के संयोजक विपिन मल्हन ने बताया कि समारोह ऐसे लोगों को ध्यान में रखकर किया जा रहा है जो आर्थिक स्थित कमजोर होने के कारण शादी के बारे में सोच भी नहीं सकते। माता-पिता द्वारा स्टाम्प पेपर पर वर या वधु के बालिग होने की प्रमाणिकता और पहचान पत्र के आधार पर बच्चों का रजिस्ट्रेशन किया गया है।समारोह में वधु के लिए सोने का मंगलसूत्र, कलर टेलीविजन, बैड, कुकर, वर और वधु का शादी का जोड़ा, दोनों के लिए घड़ी, पंखे और साइकिल जैसे उपहार दिए जाएंगे।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में स्थानीय सांसद सुरेंन्द्र सिंह नागर और विशिष्ट अतिथि के रूप में विधायक सतबीर सिंह गुजर्र, मंडलायुक्त श्रवण कुमार शर्मा एवं जिलाधिकारी दीपक अग्रवाल उपस्थित होकर नववर-वधु को अशिर्वाद देंगे।

रुचि डी. शर्मा

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:101 गरीब जोड़े बंधेंगे वैवाहिक सूत्र में