DA Image
26 फरवरी, 2020|12:17|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बलजीत की नजरें राष्ट्रमंडल खेलों के साथ वापसी पर

बलजीत की नजरें राष्ट्रमंडल खेलों के साथ वापसी पर

आंख में लगी चोट ने भले ही भारत के हाकी गोलकीपर बलजीत सिंह के कैरियर पर सवालिया निशान लगा दिया हो लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी है और अगले साल अक्टूबर में होने वाले राष्ट्रमंडल खेलों को राष्ट्रीय टीम में वापसी का लक्ष्य बनाया है।

अमेरिका में उपचार के बाद बलजीत की आंख की 55 प्रतिशत रोशनी वापस आ चुकी है और उन्हें उम्मीद है कि एक और सर्जरी के बाद वह अगले साल मार्च के अंत तक खेलने के लिए फिट हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि मेरी आंख पहले से बेहतर है और मेरी आंख की 55 प्रतिशत रोशनी वापस आ चुकी है। मैं कांटेक्ट लैंस का इस्तेमाल कर रहा हूं जिसे अलबामा में लगाया गया था। फिलहाल चंडीगढ़ का एक स्थानीय डाक्टर मेरी आंख की प्रगति को देख रहा है। मैं उसके पास नियमित चेकअप के लिए जाता हूं जिससे कि यह सुनिश्चित हो सके कि आंख में संक्रमण नहीं हो लेकिन आगे का उपचार और सर्जरी जरूरी है।

बलजीत ने कहा कि मुझे पूरा भरोसा है कि मैं मार्च अंत तक खुद को फिट कर लूंगा। मैं सब कुछ कदम पर कदम कर रहा हूं और फिटनेस दोबारा हासिल करने की कोशिश कर रहा हूं। मेरा लक्ष्य राष्ट्रमंडल खेल हैं। जुलाई में पुणे में राष्ट्रीय शिविर के दौरान गोल्फ की गेंद लगने से बलजीत की दायीं आंख चोटिल हो गई थी और उन्हें उपचार के लिए अमेरिका के अलबामा भेजा गया था जिसका खर्चा भारत सरकार ने उठाया था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:बलजीत की नजरें राष्ट्रमंडल खेलों के साथ वापसी पर