class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मिथिला विश्वविद्यालय में कई व्यायसायिक पाठक्रम शुरू होंगे

बिहार के दरभंगा स्थित ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के सिनेट (अधिषद) की विशेष बैठक आज कुलपति डा. पद्माशा झा की अध्यक्षता में हुई जिसमें 375 करोड़ 31 लाख 97 हजार 363 रूपए के घाटे का बजट ध्वनिमत से पारित किया गया।
 
बजट अभिभाषण को संबोधित करते हुए कुलपति डा. झा ने कहा कि वर्तमान युग वैश्विकरण एवं प्रतिस्पर्धा का है। ऐसे में शिक्षण संस्थाएं राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर गुणवता में सुधार करते हुए अपनी पहचान बनाने में सफल होगी तभी इसकी प्रासंगिकता बनी रहेगी।
 
डा. झा ने विश्वविद्यालय की उपलब्धियों की चर्चा करते हुए कहा कि वर्ष 2010 के मई माह तक विश्वविद्यालय की सभी परीक्षायें आयोजित कर सत्र को नियमित कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि आधुनिकता का वरण करते हुए शिक्षा के क्षेत्र में तदनुरूप परिवर्तन परिलिक्षित होगा समय की मांग है और इसको दृष्टि में रखते हुए इस विश्वविद्यालय में भी व्यवसायिक एवं रोजगारोन्मुख शैक्षणिक पाठयक्रम शुरू किया गया है विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के सहयोग से नॉलेज सेंटर की स्थापना की जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मिथिला विश्वविद्यालय में कई व्यायसायिक पाठक्रम शुरू होंगे