DA Image
28 फरवरी, 2020|7:56|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मकान व यातायात किराए पर टैक्स देने को तैयार रहें

मकान व यातायात किराए पर टैक्स देने को तैयार रहें

सरकार अब कर्मचारियों को मिलने वाले लाभों (पर्क्‍स) मसलन आवास तथा यातायात भत्ते पर भी इसी वित्त वर्ष से कर लगाने पर विचार कर रही है।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि वेतनभोगी वर्ग को अब उन्हें मिलने वाली सुविधाओं या लाभ (पर्क्‍स) पर भी कर का बोझ झेलना पड़ सकता है।

सूत्रों ने बताया कि पर्क्‍स पर यह कर इसी साल एक अप्रैल से लगाया जा सकता है। समझा जाता है कि सरकार जल्द ही आवास किराया भत्ते तथा यातायात भत्ते पर कर के आकलन के लिए अधिसूचना जारी कर सकती है। बजट 2009-10 में फ्रिंज बेनिफिट टैक्स को खत्म कर दिया गया था।

एफबीटी के खत्म होने के बाद अब सरकार की निगाह वेतनभोगी वर्ग को मिलने वाले लाभों पर कर लगाने की है। एफबीटी में कर का बोझ नियोक्ता पर पड़ता था, लेकिन इस कर का बोझ कर्मचारियों को उठाना पड़ेगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:मकान व यातायात किराए पर टैक्स देने को तैयार रहें