अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

केंचुआ खाद के उत्पादन की योजना

रासायनिक खादों के बुरे असर से लोगों को निजात दिलाने के लिए उत्तर प्रदेश में किसानों को केंचुए से बनी खाद के उत्पादन तथा उसके इस्तेमाल के बारे में प्रशिक्षण देने की एक महत्वाकांक्षी योजना शुरु की गई है।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि रासायनिक उर्वरकों और रसायनों के दुष्प्रभावों से किसानों को सचेत करने के लिए इस योजना को समूचे राज्य में क्रियान्वित करने की व्यवस्था की गई है। इसके तहत किसानों के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम भी आयोजित किए जा रहे हैं।

सूत्रों ने बताया कि योजना के माध्यम से किसानों को जैविक खाद के बारे में उपयोगी जानकारी मिलेगी और रोजगार के नए मौके मुहैया होंगे। इस योजना के तहत राज्य भर में केंचुआ खाद का उत्पादन करने का लक्ष्य है। केंचुआ खाद को समय की मांग बताते हुए सूत्रों ने बताया कि रासायनिक उर्वरकों की वजह से भूमि की उत्पादकता पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है लेकिन केंचुआ खाद के इस्तेमाल से मिट्टी की उत्पादकता को बढ़ाया जा सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:केंचुआ खाद के उत्पादन की योजना