DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मच्छर महान

अपने आपको दुनिया का सबसे बुद्घिमान प्राणी समझने वाले मनुष्य को दुनिया के सबसे छोटे जीव मच्छर ने काफी समय से पस्त कर रखा है। अपने दिमाग के दम पर इंसान ने बड़े-बड़े जानवरों को अपने वश में कर रखा है। यहाँ तक कि वह खूंखार जानवरों से सर्कस में खेल तमाशे करवा कर पैसे कमाता है। पर मानव वनराज सिंह को देखकर भी उतना नहीं डरता जितना एक मच्छर को देखकर भय खाता है।

शेर की डरावनी दहाड़ के बजाए मच्छर की मामूली सी भिनभिनाहट से डरकर कॉपने लगता है। मनुष्य जंगल के राजा के बड़े-बड़े दांतों, नाखूनों से उतना नहीं डरता जितना मच्छर की बारीक सी सूंड से डरता है। वह डरता है कि यह सूँड न जाने कौन से जीवाणु अंदर प्रविष्ट करवा रही है। जिसके प्रभाव से बदन टूटेगा या बदन तपेगा। डेंगू होगा या मलेरिया होगा। जाने कब मच्छर अपना काम कर जाता है और मनुष्य को अहसास तक नहीं होता। वह धुँआ छोड़ती अगरबत्तियों, लिक्विड भरी हुई बॉटलों और बिस्तर पर तनी मच्छरदानी के भीतर बैठा स्वयं को सुरक्षित समझता है पर मच्छर सारी किलाबंदी तोड़ता मनुष्य के चारो खाने चित कर जाता है। 

एक छोटी सी सुई लगते ही मनुष्य की आँखों के सामने अंधेरा छा जाता है। उसे दिन में तारे नजर आने लगते हैं। इस छोटी सी सुई के प्रभाव को निष्क्रिय करने के लिए उसे जाने कितनी सुईयाँ चुभवानी पड़ती हैं । गोलियाँ खानी पड़ती हैं, सिरप गटकने पड़ते हैं। जाने कितने टेस्ट के बाद पता चलता है कि डेंगू है या मलेरिया।  मानव जीवन के अनेक क्षेत्रों में निरंतर प्रगति करता चला जा रहा है। सफलता के परचम फैला रखे हैं उसने विभिन्न क्षेत्रों में। पृथ्वी तो दूर वह चांद के पार पहुँच गया। वहाँ पर कालोनी के लिए प्लाट आवंटित किए जा रहे है। वहाँ खुद तो बसेगा ही पर पालतू जानवरों के अलावा हिसंक जानवरों को भी बसाने से मना नहीं करेगा। पर मच्छर से वह इतना डरा है कि उसे साथ नहीं ले जाना चाहेगा।

एक से एक खतरनाक हथियार खोज लिए है मानव ने। एटम बम बना लिया, मिसाइल भी विकसित कर ली। पर मच्छर के कद के सामने खुद को बौना महसूस करता है। उसका सारा का सारा ज्ञान मच्छर के सामने पानी भरने चला जाता है। बड़े-बड़े रोगों की चिकित्सा ढूँढ ली है मनुष्य ने। अनेक टीके, वैक्सीन इजाद कर लिए हैं। वह दिल दिमाग की चीरफाड़ कर सकता है। पर मच्छर के आगे उसे हाथ टेकने पड़ते है। यह सोचकर ही मन कांप उठता है कि अगर मच्छर महान नहीं होता तो इस नश्वर संसार का क्या होता।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मच्छर महान