अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जांच के लिए डेढ़ माह बाद कब्र से निकाला किशोरी का शव

हरीनगर में एक किशोरी की मौत के डेढ़ माह बाद उसका शव जांच के लिए कब्र से निकाला गया है। पुलिस ने स्थानीय अदालत के निर्देश पर यह कार्रवाई की है।

शव को पोस्टमॉर्टम के लिए अस्पताल भेज दिया गया है। किशोरी के एक रिश्तेदार का आरोप है कि उसकी मौत बीमारी से नहीं हुई है, बल्कि उसकी हत्या की गई है।

हरीनगर काबड़ी रोड़ निवासी सितारा नामक 17 वर्षीय एक किशोरी की गत 31 अक्टूबर को मौत हो गई थी। परिजनों ने किशोरी की मौत बीमारी से होने की बात कहकर उसके शव को दफना दिया था।

उसके बाद सितारा के एक रिश्तेदार शैमूदीन ने गत 7 नवंबर को स्थानीय अदालत में अर्जी दायर कर आरोप लगाया था कि सितारा की मौत बीमारी से नही हुई, बल्कि उसके पिता ने ही उसकी हत्या की है।

शैमूदीन ने इस मामले की जांच कराने की अपील की है। इस अर्जी पर सुनवाई के बाद अदालत ने पुलिस को आदेश जारी कर इस बाबत मामला दर्ज कर जांच करने को कहा था। इसके बाद पुलिस ने वीरवार को किशोरी के शव को कब्र से बाहर निकाला।

इस अवसर पर पुलिस के अतिरिक्त डय़ूटी मजिस्ट्रेट तहसीलदार मनबीर सिंह व सिविल अस्पताल के डॉक्टर भी मौजूद थे। शव को पोस्टमॉर्टम के लिए सिविल अस्पताल ले जाया गया, जहां से उसे पीजीआई रोहतक भेज दिया गया।

पोस्टमार्टम के बाद पुलिस मामले की जांच करेगी कि सितारा की मौत बीमारी से हुई थी या उसकी हत्या की गई थी। जांच के बाद इसकी रिपरेट अदालत  के समक्ष पेश की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डेढ़ माह बाद कब्र से निकाला किशोरी का शव