class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दलित मुस्लिम बिरादरियों को भी आरक्षण देने की माँग

दलित मुस्लिम बिरादरियों को आरक्षण का लाभ दिलाने के लिए सक्रिय मुस्लिम रिजर्वेशन मूवमेण्ट को केन्द्र सरकार की नीयत पर शक है।

मूवमेण्ट के संयोजक जफरयाब जीलानी ने केन्द्रीय अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री सलमान खुर्शीद के ताजा बयानों पर प्रतिक्रिया जताते हुए कहा है कि श्री खुर्शीद यह तो कह रहे हैं कि केन्द्र सरकार रंगनाथ मिश्र आयोग की सिफारिशों के अनुरूप अल्पसंख्यकों को आरक्षण देगी मगर उनके बयानों से यह कतई साफ नहीं होता कि स्वच्छकार, धोबी, नट आदि दलित मुस्लिम बिरादरियों को हिन्दू, सिख व बौद्व की तरह अनुसूचित जाति-जनजाति का दर्जा देते हुए आरक्षण का लाभ दिया जाएगा या नहीं।

श्री जीलानी के अनुसार इन दलित मुस्लिम बिरादरियों को आरक्षण की मांग लम्बे अर्से से की जा रही है। श्री जीलानी ने साफ कहा कि इस मामले में कांग्रेस की नीयत ठीक नहीं लगती।

आगामी 30 दिसम्बर को संगठन की बैठक में आगे की रणनीति पर फैसला लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि दलित मुस्लिमों को आरक्षण,  अल्पसंख्यकों के 15 फीसदी आरक्षण में 10 फीसदी मुसलमानों के लिए निर्धारित करने व मण्डल कमीशन की सिफारिशों पर पिछड़ों को मिल रहे 27 फीसदी आरक्षण में पिछड़ी मुस्लिम बिरादरियों का आबादी के अनुपात में नौ फीसदी आरक्षण तय कर करने जैसे मुद्दे समाजवादी पार्टी जैसे राजनीतिक दलों को रास नहीं आ रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दलित मुस्लिम बिरादरियों को भी आरक्षण देने की माँग