class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बैंकों के असहयोग से पिछड़ गई बीमा योजना

बैंकों से असहयोग से राष्ट्रीय कृषि बीमा योजना पिछड़ गई है। सूखे के बावजूद जिले में सिर्फ 38 अऋणी लोगों ने बीमा कराया। रबी सीजन के लिए 31 दिसंबर 09 तक बीमा कराया जा सकता है।

बैंकों के रुचि न लेने के कारण गिने-चुने किसान ही बैंकों में बीमा कराने पहुंचे हैं। बैंक वाले आमतौर पर उनका ही बीमा करते हैं जो फसली ऋण लेते हैं।

फसल बीमा के एरिया इंचार्ज बीआर केसरवानी ने बताया कि बाढ़, सूखा, बर्फबारी और अन्य दैवीय प्रकोप की स्थिति में किसानों को बीमा का लाभ दिया जाएगा। गेहूं के लिए बीमित राशि का 1.5 फीसदी धनराशि देनी होगी।

अऋणी किसान प्रीमियम देकर अपनी फसल का बीमा करा सकते हैं। बनारस में रबी सीजन में गेहूं किसानों के लिए बीमा का प्रावधान किया गया है। अन्य फसलों का बीमा नहीं हो सकेगा। श्री केसरवानी ने बताया कि फसली बीमा के लिए किसान 9935614164 पर जानकारी हासिल कर सकते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बैंकों के असहयोग से पिछड़ गई बीमा योजना