class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लॉ आर्डर में सुधार नहीं हुआ तो छोड़गें जनपद: उद्यमी

मल्टीनेशनल कम्पनीयों में काम करने वाले कर्मचारियों के साथ आए दिन हो रही लूटपाट की घटनाओं से परेशान कम्पनी के मैनेजरों ने जिला प्रशासन व पुलिस के अफसरों के साथ बैठक की । उन्होने कम्पनियों में काम करने वाले कर्मचारियों को सुरक्षा मुहैया कराए जाने की मांग की ।

कम्पनी के मैनेजरों ने डीएम व एसएसपी को ग्रेटर नोएडा की पुलिस की करतूतो से अवगत कराया। कहा कि बदमाश रात व दिन में काम करने जाने व काम खत्म करके अपने घर जा रहे कर्मचारीयों का अपहरण कर लेते है । पिस्तौल के बल पर एटीएम से पैसा तक निकल वा लेते है । कई बार बदमाश गाडी को जबरदस्ती कर्मचारीयों की गाडी से जरा सी टच कर देते है इसी के बहाने मारपीट कर पैसा वसूल लेते है। पुलिस के पास कोतवाली रिपोट दर्ज कराने के लिए जाते है तो पुलिस उनकी रिपोर्ट तक दर्ज नही करती बदमाशों के खिलाफ कार्रवाई करना तो दुर की बात रही । कम्पनियों में काम करने वाले कर्मचारी रात में तो कतई सुरक्षित नही है मल्टीनैशनल कंपनी एसटी माइक्रोसाफॅट के राहुल चुग काम करके घर जा रहे थे अंसल प्लाजा के पास कार सवार बदमाशों ने मारपीट कर लूटपाट कर ली। इसी तरह हर रोज कर्मचारीयों के साथ घटना होती रहती है। यदि यही हाल रहा तो वो नौकरी छोड़कर दुसरी जगहों पर चले जाएगे।

डीएम ने एसएसपी से कम्पनीयों में काम करने वाले कर्मचारीयों को सुरक्षा देने को कहा है। एसएसपी ने मल्टीनैशनल कम्पनीयों के मैनेजरों को आश्वासन दिया कि जनवरी माह में नोएडा ग्रेटर नोएडा को 40 बुलेरों गाडीयां मिलेगी । इसके बाद ही सुरक्षा में कुछ किया जा सकता है। एसएसपी ने कहा कि उनके पास पुलिस स्टाप की भी कमी है नोएडा ग्रेटर नोएडा में पुलिस की कमी के चलते घटना हो रही है। कलक्टेट में हुई बैठक में मल्टीनैशनल कम्पनीयों के मैनेजरों में नितेष गौतम,मिलाप सिंह,संतोष सिंह,अनिल भाटिया,कर्नल आहलूवालिया आदि शामिल थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लॉ आर्डर में सुधार नहीं हुआ तो छोड़गें जनपद: उद्यमी