class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पेप्सी को वैकल्पिक मिठास अपनाने की मंजूरी का इंतजार

पेप्सी को वैकल्पिक मिठास अपनाने की मंजूरी का इंतजार

शीतल पेय बनाने वाली कंपनी पेप्सीको इंडिया ने बुधवार को कहा कि अगर सरकार मंजूरी देती है तो वह चीनी के विकल्प के रूप में मिठास के लिये स्टीविया का इस्तेमाल कर सकती है। स्टीविया दक्षिणी और मध्य अमेरिकी क्षेत्र का एक पौधा है जिसके पत्तों की मिठा से चीनी का वैकल्पिक उत्पाद तैयार किया जाता है।
   
पेप्सीको इंडिया के कार्यकारी निदेशक गीतू वर्मा ने कहा कि अगर सरकार हमें (पेप्सीको इंडिया को) चीनी के विकल्प के तौर पर स्टीविया के इस्तेमाल की मंजूरी देती है, हम शीतल पेय में मिठास के लिये इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। चीनी की बढ़ती कीमत के मद्देनजर कंपनी ने हाल ही में सरकार से वैकल्पिक मिठास के रूप में स्टीविया के इस्तेमाल की अनुमति मांगी है।
  
बहरहाल, वर्मा ने कहा कि मंजूरी मिलने में छह महीने से लेकर दो साल का वक्त लग सकता है। यह पूछे जाने पर कि क्या कंपनी चीनी आधारित उत्पादों की कीमत में बढ़ोतरी करेगी, वर्मा ने कहा कि हालांकि चीनी की बढ़ती कीमत के कारण उनके उपर दबाव है, लेकिन उनकी फिलहाल ऐसी कोई योजना नहीं है।

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पेप्सी को वैकल्पिक मिठास अपनाने की मंजूरी का इंतजार