DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नौकरी दी, पैसे नहीं: अब किया टर्मिनेट, हंगामा

बीटेक व एमसीए के छात्रों को नौकरी देने के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले आईटी कंपनी के एमडी को छात्रों ने पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। कोतवाली सेक्टर-20 पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है। छात्रों का आरोप है कि कंपनी फर्जी तरीके से संचालित होती है और रिक्रूट करने के बाद छात्रों को चार महीने से वेतन भी नहीं दिया गया। जब छात्रों ने अपने पैसे मांगे तो टर्मिनेशन लेटर दे दिया। इसके बाद छात्र उबल गए और हंगामा कर दिया।


बीटेक व एमसीए के लगभग एक सौ से अधिक छात्रों ने सेक्टर-2 स्थित एएनआईटी सॉफ्टवेयर कंपनी में जॉब का फॉर्म भरा था। इसके बाद कंपनी के नियमों के अनुसार न लोगों की नियुक्ति सॉफ्टवेयर डेवलपर के रूप में हुई। उस समय इन छात्रों से सिक्योरिटी मनी के रूप में चालीस हजार रुपए लिए थे और बांड भराया गया गया था। बांड के अनुसार सभी छात्र छात्रओं को आठ हजार रुपए प्रति महीने देने की बात की गई थी। इसके तीन महीने बाद पैसे बढ़ाए जाने की भी बात थी। इन छात्र छात्रओं ने सॉफ्टवेयर डेवलपर के रूप में दस अगस्त को ज्वाइन किया। इसके बाद अब तक एक भी छात्र को पैसे नहीं दिए। जब एमडी से कहा तो इंतजार करने को कहा। जब छात्रों को लगा कि यह फर्जी तरह की कंपनी है तो हंगामा करने लगे। इसके बाद सभी छात्रों को श्रुकवार को टर्मिनेट कर दिया गया। मंगलवार को सभी छात्र एकजुट होकर कंपनी के एमडी नीलमशि पांडेय व आशीष कुमार पांउेय को पकउ़कर कोतवाली सेक्टर-20 ले आए। छात्रों की तहरीर पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नौकरी दी, पैसे नहीं: अब किया टर्मिनेट, हंगामा