class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ग्रामीणों ने वन विभाग में ताला जड़ा

कल्प क्षेत्र विकास आंदोलन के बैनर तले उर्गम घाटी के सैकड़ों ग्रामीणों ने जिलाधिकारी कार्यालय पर धरना देकर प्रदर्शन किया और बदरीनाथ वन प्रभाग कार्यालय पर तालाबंदी की। ग्रामीणों का आरोप है कि विभाग ने 27 सालों से लंबित पड़े वन पंचायत की रायल्टी का भुगतान नहीं किया है।

भारी वर्षा और ठंड के बावजूद सुदूरवर्ती उर्गम घाटी की महिलाएं तथा ग्रामीण जिला मुख्यालय गोपेश्वर में आए और जुलूस की शक्ल में जिलाधिकारी कार्यालय तक पहुंचे। अपनी विभिन्न मांगों को लेकर कल्प क्षेत्र विकास आंदोलन के बैनर तले ग्रामीणों ने जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन दिया और एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया। 

ग्रामीणों की मांग है कि राजकीय इंटर कॉलेज उर्गम में स्थायी प्रधानाचार्य की नियुक्ति की जाए तथा शिक्षकों के रिक्त पदों को जल्द भरा जाए।  ग्रामीणों ने हेलंग उर्गम मार्ग जो प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत बन रहा है के विस्तारीकरण की भी मांग की। ग्रामीणों ने भेंटा जूनियर हाईस्कूल में अध्यापकों की नियुक्ति, क्षेत्र में विद्युत आपूर्ति तथा ओडला पुल निर्माण की मांग की।

इसके अलावा कल्पेश्वर सुंदर वन पुल का निर्माण, भेंटा प्राथमिक विद्यालय की मरम्मत, खबाला से फ्यूंलानारायण मोटर मार्ग पीएमजीएसवाई के तहत शीघ्र करने की मांग भी ग्रामीणों ने दोहरायी।

1981-82 में ग्लेशियर खिसकने से हुए नुकसान की रायल्टी न मिलने से नाराज ग्रामीणों ने  बदरीनाथ वन प्रभाग कार्यालय पर तालाबंदी की।

प्रदर्शन करने वालों में उर्गम की प्रधान लक्ष्मी देवी, भेंटा की प्रधान राजेश्वरी देवी, आंदोलन के सचिव लक्ष्मण सिंह नेगी, अभिभावक संघ के अध्यक्ष राजेंद्र सिंह, युद्धवीर सिंह, बादर सिंह, गोदांबरी देवी, माहेश्वरी देवी, बालक सिंह, बख्तावर सिंह, रेखा पंवार, कश्मीरा बत्र्वाल, उजागर फस्र्वाण आदि थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ग्रामीणों ने वन विभाग में ताला जड़ा