class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजू पर 430 करोड़ के घपले का एक और आरोप

राजू पर 430 करोड़ के घपले का एक और आरोप

केंद्रीय जांच ब्यूरो ने सत्यम के संस्थापक बी रामलिंग राजू, उनके भाई बी राम राजू और आठ अन्य के खिलाफ फर्जी ग्राहक बनाने तथा कंपनी से गलत तरीके से 430 करोड़ रुपये निकालने का आरोप लगाया है।

सीबीआई द्वारा पिछले महीने दायर पूरक आरोपपत्र के अनुसार आरोपियों ने फर्जी ग्राहक तैयार किए और सत्यम कंप्यूटर सर्विसेज की आय बढ़ाकर दिखाने के लिए उन कंपनियों के विरुद्ध 430 करोड़ रुपये के बिल तैयार किए। इस पर 65.88 करोड़ रुपये का खर्च आया।

आरोपपत्र में कहा गया है, जो साक्ष्य मिले हैं, उससे यह साबित होता है कि आरोपी राम राजू, एससीएसएल के कर्मचारी जी रामकष्णा, डी वेंकटपति राजू और श्रीसैलम ने बेईमानी की और साथ मिलकर 2006 में सात फर्जी ग्राहक तैयार किए। इन लोगों ने एससीएसएल की आय बढ़ाकर दिखाने के लिए इन ग्राहकों के नाम पर 430 करोड़ के फर्जी बिल तैयार किए।

बही़ ख़ाते को बढ़ाकर दिखाने के क्रम में आरोपियों ने फर्जी ईमेल आईडी तैयार किए और सातों फर्जी ग्राहकों के नाम से एससीएसएल के विभिन्न सहयोगियों को ईमेल किया तथा उनसे उत्पादों के विकास जारी रखने का अनुरोध किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:राजू पर 430 करोड़ के घपले का एक और आरोप