अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महंगाई को लेकर सीपीएम व सीपीआई ने दिया ज्ञापन

महंगाई व अव्यवस्थित राशन प्रणाली को लेकर सीपीएम व सीपीआई ने खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रण कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन किया। इस दौरान उन्होंने अतिरिक्त जिला उपायुक्त को मुख्यमंत्री के नाम का एक ज्ञापन भी दिया।


धरने की अध्यक्षता बेचू गिरी ने की। इस दौरान सीएपीएम व सीपीआई नेताओं ने कहा कि राशन कार्ड अब केवल कार्ड बनकर रह गया है। राशन प्रणाली व्यवस्था चरमराई हुई है। इसके नाम पर गरीबों को बांटने का काम किया जा रहा है। नरेगा स्कीम केवल ग्रामीण क्षेत्र में ही शुरू की गई है। जबकि शहरी क्षेत्र में लोगों के समक्ष रोजगार का संकट है। इसलिए नरेगा का इस्तेमाल सही नहीं हो रहा है। इस तरह की व्यवस्था शहरी क्षेत्र मे भी किए जाने की जरूरत है। उन्होंने मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजकर खाद्य नियंत्रक कानून को खत्म करने की मांग की है।

इससे जमाखोरी को बढ़ावा मिला है। प्रदर्शनकारियों ने महंगाई पर तुरंत रोक लगाए जापने की मांग की है। सूखे की मार ङोल रहे किसानों को मुआवजा दिए जाने की मांग क ी। उन्होंने अस्पतालों की मनमानी लूट रोकने के लिए सरकारी नियंत्रण किए जाने की भी मांग की है। कामरेड दर्शन सिंह, विजय कुमार झा, नारायण प्रसाद, लालबाबू शर्मा, तरसेम सिंह आदि ने अतिरिक्त जिला उपायुक्त को ज्ञापन सौंपते हुए कहा कि छठे वेतन आयोग की विसंगतियों को भी दूर किया जाए तथा कच्चे मजदूरों पर इसे लागू करते हुए उनकी नौकरी पक्की की जाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:महंगाई को लेकर सीपीएम व सीपीआई ने दिया ज्ञापन