DA Image
24 फरवरी, 2020|11:02|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सपा उत्तर प्रदेश के और विभाजन के खिलाफ

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं समाजवादी पार्टी मुखिया मुलायम सिंह यादव ने प्रदेश के और विभाजन के प्रति अपना विरोध जारी रखते हुए सोमवार को कहा कि आन्ध्र प्रदेश को विभाजित करके अलग तेलंगाना राज्य के गठन के लिए केन्द्र सरकार के सहमति जताने के बाद से वहां जो कुछ हो रहा है वह सबके सामने है।

सपा मुखिया ने पंजाब, हरियाणा और उत्तराखण्ड का उदाहरण देते हुए कहा कि उन राज्यों की राजधानियों का विवाद अभी सुलझा नहीं है और केन्द्र सरकार ने जिस तरह बिना सोचे-समझे आन्ध्र प्रदेश को विभाजित कर नए तेलंगाना राज्य के गठन के लिए अपनी सहमति जता दी उसके बाद से राजधानी हैदराबाद को नए राज्य तेलंगाना को दिया जाए अथवा नहीं इसको लेकर आग लगी हुई है।

इटावा के इकदिल थाना क्षेत्र में शनिवार को एक सड़क दुर्घटना में मारे गए 14 बारातियों के परिजनों को सांत्वना देने जिले के भरतवाल मोहल्ले में आए मुलायम सिंह ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि उनकी पार्टी उत्तर प्रदेश के किसी और विभाजन का विरोध करती है क्योंकि तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के समय राज्य को विभाजित करके उत्तराखण्ड राज्य के गठन से उत्तर प्रदेश पहले ही काफी भुगत चुका है।

सपा प्रमुख ने इकदिल की दुर्घटना में मारे गए व्यक्ति के निकटतम परिजनों को एक-एक लाख रुपए तथा दुर्घटना में घायल हुए बीस लोगों को इलाज के लिए बीस से तीस हजार रुपए प्रति व्यक्ति के हिसाब से सहायता भी दी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:सपा उत्तर प्रदेश के और विभाजन के खिलाफ