अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रूट-33 के लोगों की आस आनंद विहार मेट्रो

डीटीसी बसों में सफर करने वाले 33 के बारे में सोचकर ही परेशान होते हैं। पीक आवर की बात कौन कहे, भजनपुरा से नोएडा के बीच सफर कराने वाली यह बस अंग्रेजी के शब्द ‘सफर’ की पर्याय होती है।

गेट के बाहर तक लटकी भीड़ और अंदर में खड़े-खड़े उलझते लोगों को आनंद विहार तक निजात मिलने वाली है यमुना बैंक-आनंद विहार मेट्रो से। इसके साथ ही मेट्रो के इस नए रूट के शुरू होने पर नोएडा से प्रीत विहार और कड़कड़डूमा जाने वाली भारी भीड़ का भी सफर सुहाना होगा, क्योंकि पहले इसके लिए खूब घूमना पड़ता था।

यूं तो नोएडा वाले डीटीसी के रूट 33 का काफी सफर मेट्रो शुभारंभ के समय से ही करने लगे थे, लेकिन इसके लिए काफी पापड़ बेलना पड़ता था। नोएडा से राजीव चौक और फिर कश्मीरी गेट के रास्ते शास्त्री पार्क, सीलमपुर, वेलकम, शाहदरा, झिलमिल होकर दिलशाद गार्डन आने पर 33 का रूट मिलता था।

आनंद विहार जाने के लिए बहुत जल्द यमुना बैंक से मेट्रो का रास्ता आम आदमी के लिए खुल जाने की उम्मीद नोएडा वालों की खुशी बढ़ा रही है। नोएडा के सेक्टर-37 से न्यू कोंडली के रास्ते दिल्ली के भजनपुरा तक जाने वाली 33 नंबर बस में होने वाली दुर्गति के बारे में बताते हुए नोएडा के सेक्टर-22 निवासी प्रताप राणा ने कहा कि भजनपुरा जाते समय ज्यादा संकट आनंद विहार तक ही रहता है।

कई बार मैंने गेट से लटकते लोगों को गिरते हुए देखा है। मॉडल टाउन चौकी के पास एनएच 24 पर प्रीत विहार के लिए ऑटो का इंतजार कर रहे प्रदीप अवाना ने कहा कि कड़कड़डूमा कोर्ट और प्रीत विहार जाने के लिए बसों में चक्कर लगाने की जगह आनंद विहार मेट्रो का सफर ज्यादा आसान होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रूट-33 के लोगों की आस आनंद विहार मेट्रो