class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मऊ में कस्टडी में इलाज के दौरान युवक की मौत

जनवासे में दूल्हे को गोली मारने के आरोपित युवक की पुलिस कस्टडी में इलाज के दौरान रविवार की सुबह जिला अस्पताल में मौत हो गयी। ग्रामीणों की पिटाई से गंभीर रूप से जख्मी युवक को तीन दिन पहले अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

डाक्टरों ने उसे बीएचयू (वाराणसी) रेफर किया था, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। उधर थाना प्रभारी का कहना है कि युवक पुलिस हिरासत में नहीं था बल्कि उस्मानपुर के अशोक यादव ने उसे भर्ती कराया था। बीएचयू रेफर होने की सूचना तरवां पुलिस के जरिये उसके घर भेजवा दी गयी थी।

उल्लेखनीय है कि सरायलखन्सी थाना क्षेत्र के उस्मानपुर गांव में गत दस दिसम्बर को आयी बारात में दूल्हे कृष्णानंद को तीन गोली मारी गयी थी। इस मामले में भीड़ ने आरोपित अंगद यादव उर्फ राजू पुत्र जगदम्बा यादव निवासी मुसवां थाना तरवां आजमगढ़ को पकड़कर बुरी तरह पीट दिया था।

मौके पर पहुंची पुलिस ने राजू को गंभीर स्थिति में जिला अस्पताल में भर्ती कराया। इलाज के दौरान वहां एक सिपाही की डय़ूटी भी लगायी गयी थी। सिर में गंभीर चोट के चलते शनिवार की शाम को राजू की हालत बिगड़ने लगी।

डा. बीबी सिंह ने जांच के बाद शाम 6:55 बजे राजू को बेहतर इलाज के लिए वाराणसी स्थित बीएचयू के सर सुन्दर लाल अस्पताल के लिए रेफर कर दिया, लेकिन सरायलखन्सी पुलिस ने रेफर करने का कागज नहीं लिया। इसके बाद डा. बीबी सिंह के अलावा डा. आरआर चौहान और डा. भीम सिंह ने भी राजू की जांच की और उसे तत्काल बीएचयू ले जाने के लिए सलाह दी, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

अंतत: रविवार की सुबह लगभग नौ बजे उसकी मौत हो गयी। डाक्टरों ने मौत की वजह ब्रेन हेमरेज होना बताया। उधर थाना प्रभारी प्रशांत श्रीवास्तव का कहना है कि राजू को उस्मानपुर के अशोक कुमार यादव ने लाकर भर्ती कराया था। उसे हिरासत में नहीं लिया गया था।

रेफर होने की सूचना शनिवार की शाम को ही तरवां पुलिस के जरिये उसकी मां कृष्णावती को दी गयी थी क्योंकि ऐसे मामले में परिजन ही इलाज कराते हैं। परिजन रविवार की सुबह आने वाले थे, लेकिन उनके आने के पहले ही राजू ने दम तोड़ दिया। इस मामले में पुलिस ने कोई लापरवाही नहीं की है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मऊ में कस्टडी में इलाज के दौरान युवक की मौत