अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मायावती के पूर्वांचल की मांग शिगूफेबाजीः कांग्रेस

उत्तर प्रदेश विधानसभा में कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता प्रमोद तिवारी ने मुख्यमंत्री मायावती द्वारा पृथक पूर्वांचल राज्य बनाये जाने की मांग को लेकर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को लिखे पत्र को केवल एक राजनीतिक शिगूफेबाजी बताया है।

प्रमोद तिवारी ने कहा कि कांग्रेस हमेशा ही छोटे राज्यों की पक्षधर रही है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय पुनर्गठन आयोग के माध्यम से छोटे राज्यों के गठन के मानक तय हो जाये और छोटे राज्यों की व्यवहारिकता पर भी विचार कर लिया जाये।

उन्होंने कहा कि मानकों में यह तय किया जाये कि छोटे राज्यों के गठन से समस्यायें बढ़ेंगी या घटेंगी तथा पानी का बंटवारा क्या होगा और ऐसी कई समस्याओं पर भी विचार कर लिया जाये।

तिवारी ने कहा कि प्रदेश मे व्याप्त अराजकता, मंहगाई, बिजली आदि की समस्याओं से जनता का ध्यान हटाने के लिए मायावती ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर एक राजनीतिक शिगूफा छोड़ा है।

उन्होंने कहा कि केवल कांग्रेस ने पृथक पूर्वांचल राज्य के गठन को लेकर विधानसभा में संकल्प रखा था अगर मुख्यमंत्री मायावती और उनकी पार्टी बसपा वास्तव में पूर्वांचल राज्य के गठन को लेकर गंभीर है तो वह कांग्रेस के संकल्प का समर्थन करते हुए विधानसभा में प्रस्ताव पारित करा कर केन्द्र सरकार को भेजे।

तिवारी ने कहा कि अगर मुख्यमंत्री कांग्रेस के संकल्प का समर्थन न करना चाहे तो वह उक्त बाबत सदन में खुद प्रस्ताव लाये तथा कांग्रेस गुण दोष के आधार पर उसका समर्थन करेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मायावती के पूर्वांचल की मांग शिगूफेबाजीः कांग्रेस