अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हर महीने 11 अमेरिकी बैंक हुए धराशायी

हर महीने 11 अमेरिकी बैंक हुए धराशायी

बीते दिनों और तीन अमेरिकी बैंकों के धूल चाटने के साथ 2009 में धराशायी होने वाले अमेरिकी बैंकों की कुल तादाद 133 पहुंच गई जो पिछले साल के मुकाबले पांच गुना अधिक है। आर्थिक संकट के चलते हर महीने औसतन 11 अमेरिकी बैंक धराशायी हुए जिसमें अधिक संख्या छोटे बैंकों की है। बीते साल महज 25 बैंक दिवालिया हुए थे। वहीं इस साल धराशायी हुए बैंकों की संख्या सालों में सबसे अधिक है।

बचत एवं ऋण संकट के चलते 1992 में 181 बैंकों ने शटर गिराए थे। फेडरल डिपाजिट इंश्योरेंस कारपोरेशन (एफडीआईसी) के मुताबिक, 11 दिसंबर को तीन बैंकिंग इकाइयां, रिपब्लिक फेडरल बैंक, वैली कैपिटल बैंक और साल्यूशंस बैंक को बंद किया गया। इन बैंकों के फेल होने से एफडीआईसी पर 25.21 करोड़ डालर का खर्च आने की संभावना है। एफडीआईसी संकटग्रस्त बैंकिंग इकाइयों की देखभाल का काम करती है।

इस महीने अभी तक अमेरिकी के सबसे बड़े बैंकों में से एक एमट्रस्ट बैंक सहित नौ बैंकिंग इकाइयां धराशायी हो चुकी हैं। 27 अक्टूबर, 2009 तक संकटग्रस्त एमट्रस्ट बैंक के पास 12 अरब डालर मूल्य की संपत्तियां एवं 6 अरब डालर जमा राशियां थीं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हर महीने 11 अमेरिकी बैंक हुए धराशायी