अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब राज्य के सभी जिलों में लगेगी अपनी मंडी


हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड पानीपत, सोनीपत, कुरुक्षेत्र व पंचकूला की तर्ज पर प्रदेश के सभी नगरों में अपनी मंडियां संचालित करेगा। बोर्ड ने उपभोक्ताओं को उचित मूल्य पर सब्जियां व फलों की आपूर्ति सुनिश्चित करने के उद्देश्य से यह फैसला किया है। राज्य की मुख्य सचिव उर्वशी गुलाटी की अध्यक्षता में शनिवार को यहां हुई राज्य स्तरीय मूल्य परिवीक्षण समिति की बैठक में यह जानकारी दी गई।

बैठक में निर्णय लिया गया कि अपनी मंडियों में सब्जियों तथा फलों के भावों की सूची प्रदर्शित की जाएगी। इसके अलावा राज्य में उपभोक्ताओं को फलों एवं सब्जियों की आपूर्ति के लिए मोबाइल वैन सेवाएं भी आरंभ की जायेगी।

गुलाटी ने संबंधित अधिकारियों को सार्वजनिक वितरण प्रणाली को और अधिक प्रभावी बनाने के निर्देश दिए और कहा कि दलहन भी इस प्रणाली के माध्यम से वितरित की जानी चाहिए। बैठक में इस बात पर बल दिया गया कि आबंटित चीनी के कोटे को बढ़ाया जाना चाहिए और उपभोक्ताओं को उचित मूल्य पर इसकी आपूर्ति सुनिश्चित की जानी चाहिए। गुलाटी ने विभागीय अधिकारियों को काला बाजारी रोकने के लिए प्रभावी कदम उठाने के निर्देश भी दिए।

खाद्य एवं आपूर्ति विभाग द्वारा घोषित स्टाक के मुद्दे की समीक्षा करते हुए मुख्य सचिव  ने कहा कि गेहूं, चावल, दालें तथा खाद्य तेल व चीनी की सीमा निर्धारित करने के लिए जल्द ही आवश्यक कदम उठाए जाएं। बैठक में खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के वित्तायुक्त एवं प्रधान सचिव एलएसएम सलिन्स ने मुख्य सचिव को आश्वासन दिया कि उनके निर्देशों पर उचित कार्रवाई की जाएगी और पाक्षिक आधार पर स्थिति की समीक्षा की जाएगी।

बैठक में सहकारिता विभाग के वित्तायुक्त एवं प्रधान सचिव रोशन लाल, खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के निदेशक बलराज सिंह, राज्य कृषि विपणन बोर्ड के मुख्य प्रशासक अनिल मलिक व कानफफैड के प्रबंध निदेशक प्रदीप कासनी भी मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अब राज्य के सभी जिलों में लगेगी अपनी मंडी