अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भ्रष्टाचार करेंगे तो बीमार पड़ेंगे, पीजीआई चंडीगढ़ में हुई रिसर्च

झूठ बोले कौआ काटे वाली बात पुरानी हो गई है।  झूठ बोलने वालों का रंग काला हो सकता है। चंडीगढ़ के पीजीआई के डॉक्टर कहते हैं कि जो लोग भ्रष्टाचार करते हैं और अपराध में शामिल होते हैं उनको दिल के दौरे पड़ सकते हैं और कैंसर जैंसी बीमारियां उन्हें हो सकती हैं।

पीजीआई के कार्डियोलाजी विभाग के पूर्व अध्यक्ष व एडीशनल प्रोफेसर डॉक्टर यशपाल ने कई मरीजों पर शोध के बाद यह नतीजा निकाला है।

उन्होंने कहा है कि जब कोई व्यक्ति ऐसा अपराध करता है तो उसके अंदर ग्लानि की भावना पैदा हो जाती है। इससे मानसिक तनाव पैदा होता है। यह तनाव उन हारमोंस के स्नव को गड़बड़ा देता है जो कि  हायपोथेलेमस सेंटर के जरिए निकलते हैं।

कुछ हारमोंस कम हो जाते हैं तो कुछ ज्यादा। नतीजा यह होता है कि व्यक्ति का मनोबल कम हो जाता है। वह मानसिक रूप से परेशान रहता है। रक्त की सप्लाई भी अनियमित हो जाती है। रक्त की मांग बढ़ जाती है लेकिन सप्लाई कम हो जाती है और धड़कन भी बढ़ जाती है। इसलिए उनमें अचानक दिल के दौरे पड़ने की संभावना हो जाती है। अचानक मौत की संभावना बढ़ जाती है।    

डाक्टर यशपाल कहते हैं कि झूठ बोलने से रंग काला पड़ जाता है।  इसका कारण यह है कि लोगों में हारमोन के स्नव की गड़बडी़ से त्वचा में मेलेनिन बढ़ जाता है। मेलेनिन बढ़ने से रक्त की सप्लाई  कम हो जाती है और कालापन बढ़ जाता है। जल्दी झुर्रियां निकल आती हैं।  बाल सफेद हो जाते हैं और इम्युनिटी सिस्टम भी कमजोर हो जाता है। इससे वायरल, बैक्टीरियल  व  अन्य तरह के पैरासिटिक इंफेक्शन की सभावना बढ़ जाती है। 

उन्होंने कहा कि यदि ये हारमोन जरूरत से ज्यादा निकलते हैं  तो फिर इससे ये डीएनए के प्रोटीन पैटर्न को भी परिवर्तित करते हैं जो कि कैंसर वाले जीन को बना सकते हैं। आने वाली पीढ़ी पर भी ये असर डाल सकते हैं।  
 डॉक्टर यशपाल कहते हैं कि स्वस्थ रहना है तो फिर अपनी जीवन शैली को बदलना होगा।

वे कहते हैं कि गलत काम करने के पहले दो मिनट सोचिए। लंबी सांस लीजिए। इससे दिमाग को पूरी आक्सीजन मिलेगी। रक्त की ब्रेन में अच्छी सप्लाई होगी। और फिर काम के अच्छे बुरे नतीजे के बारे में आप अच्छे से  सोच सकेंगे। 

गरीबों की मदद करने, कल्याणकारी काम करने और ध्यान व योग से तनाव में कमी होती है जिससे वे बीमारियों का मुकाबला कर सकते हैं। डाक्टर यशपाल इसे यश इंडिया तकनीक कहते हैं। वे कहते हैं कि खाने को खूब देर तक चबाकर खाइए।

जैसे ब्रेन खाने को बंद करने का संकेत दे तो तुरंत खाना बंद कर देना चाहिए। उन्होंने कहा है कि यह संकेत तब मिलता है जब बहुत चबा चबाकर आप खाते हैं। डाक्टर यशपाल ने अपनी तकनीक का पेटेंट भी कराया है।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भ्रष्टाचार करेंगे तो बीमार पड़ेंगे
पांचवां एक-दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच
अफगानिस्तान241/9(50.0)
vs
जिम्बाब्वे95/10(32.1)
अफगानिस्तान ने जिम्बाब्वे को 146 रनो से हराया
Mon, 19 Feb 2018 04:00 PM IST
पांचवां एक-दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच
अफगानिस्तान241/9(50.0)
vs
जिम्बाब्वे95/10(32.1)
अफगानिस्तान ने जिम्बाब्वे को 146 रनो से हराया
Mon, 19 Feb 2018 04:00 PM IST
फाइनल
न्यूजीलैंड
vs
ऑस्ट्रेलिया
ईडन पार्क, ऑकलैंड
Wed, 21 Feb 2018 11:30 AM IST