DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पांच हजार किमी तक मार करेगी अपनी एटमी मिसाइल भी

भारतीय सेना केतरकश में भी अगले दो वर्षो में पाँच हजार किलोमीटर की दूरी तक मार करने वाली एटमी मिसाइल आ जाएगी। इसकी मारक क्षमता की परिधि में पूरे चीन के साथ-साथ यूरोप का बड़ा हिस्सा शामिल होगा। इस मिसाइल को लगभग तैयार कर लिया गया है।

अगले साल दिसम्बर तक इसके परीक्षण की प्रक्रिया शुरू हो जाने की उम्मीद है। इसके बाद इसे सेना में शामिल किया जाएगा। भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान (ट्रिपलआईटी) में चल रहे द्वितीय नोबेल लॉरिएट साइंस कान्क्लेव में आए रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) के मुख्य नियंत्रक अनुसंधान तथा विकास डॉ. डब्ल्यू. सेल्वामूर्ति ने शनिवार को यह जानकारी दी।

इस नई मिसाइल से भारतीय सेना जरूरत पड़ने पर यूरोप तक लक्ष्य का संधान कर सकेगी जबकि युद्ध के वक्त चीन के किसी भी हिस्से पर वार किया जा सकेगा। अब तक भारत के पास सबसे लम्बी दूरी की मारक क्षमता वाली मिसाइल अग्नि-3 है। यह 3500 किलोमीटर दूर तक ही मार कर सकती है।

नई मिसाइल अग्नि-3 का विकसित स्वरूप है। अग्नि-3 का सफल परीक्षण हो चुका है। मारक क्षमता बढ़ाने के लिए अग्नि-3 मिसाइल में एक और इंजन लगाया जा रहा है। चीन के पास डॉग फेग 31ए जैसी 11 हजार किलोमीटर मारक क्षमता वाली सबसे बड़ी मिसाइल है।

वह भारत की इस नई मिसाइल पर कई बार चिंता भी जता चुका है। डॉ. सेल्वामूर्ति का कहना है कि इस मिसाइल के तैयार होने के बाद कोई आर्म्स रेस नहीं शुरू होगी बल्कि इससे भारत और ताकतवर होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पांच हजार किमी तक मार करेगी अपनी एटमी मिसाइल भी