class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डाक्टरों की महारैली स्थगित

स्वास्थ्य मंत्री नंदकिशोर यादव के आश्वासन के बाद डाक्टरों की महारैली स्थगित हो गई। महारैली 18 दिसम्बर को पटना में होनेवाली थी। डाक्टरों के संगठन आईएमए, भासा एवं आयुष ने महारैली का आह्वान किया था। इन संगठनों के प्रतिनिधिमंडल ने शनिवार को स्वास्थ्य मंत्री से बातचीत की। मांग यह थी कि राज्य सरकार डाक्टरों की सुरक्षा के लिए कानून बनाए।

स्वास्थ्य मंत्री ने डाक्टरों को बताया कि सरकार उनकी सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। इसके लिए गृह सचिव ने 10 दिसम्बर को सभी डीएम एवं एसपी को पत्र लिखा है। सरकार डाक्टरों की सुरक्षा के लिए हरेक कदम उठा रही है। विभाग में मेडिकल प्रोफेशनल प्रोटेक्शन एक्ट बनाने की प्रक्रिया चल रही है। इसलिए डाक्टरों को चाहिए कि वे ऐसा कुछ भी न करें जिससे मरीजों की सेवा बाधित हो।

डाक्टर संगठनों के प्रतिनिधिमंडल में आईएमए के प्रदेश अध्यक्ष रमेश प्रसाद सिंह, वरीय उपाध्यक्ष डा. सहजानंद प्रसाद सिंह, सचिव डा. अशोक कुमार यादव, डा. डीके चौधरी, भासा के प्रदेश अध्यक्ष डा. रामनगीना सिंह, संयुक्त सचिव डा. कुमार अरुण, डा. अजय कुमार, आयुष के संयोजक डा. मधुरेंद्र पांडेय, डा. जितेंद्र एवं डा. राजेश प्रसाद सिंह शामिल थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:डाक्टरों की महारैली स्थगित