अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पर्यटन स्थल बन सकती हैं नौगढ़ की पहाड़ियां: आईजी

पुलिस महानिरीक्षक वाराणसी गुरुदर्शन सिंह ने शनिवार को कहा कि, नौगढ़ इलाके में कभी गरीब लोग तीन-तीन माह तक महुआ खाते थे। झरनों का गंदा पानी पी कर प्यास बुझाते थे। गांव के लोग टेलीफोन, मोटर कार वगैरह से अनजान थे। लेकिन आज परिदृश्य बदल चुका है। अब मेट्रो व जहाज की चर्चा हो रही है। श्रमिकों का शोषण बंद हुआ है।

शनिवार को नौगढ़ महोत्सव के समापन पर आईजी वाराणसी गुरुदर्शन सिंह ने नक्सल क्षेत्रों के गांवों की चर्चा करते हुए कहा कि, भवन तो दिखायी देते हैं, किन्तु अध्यापक ने स्कूल नहीं देखा और गांव वालों ने मास्टर नहीं देखा। श्री सिंह ने कहा कि, नौगढ़ रमणीक स्थल है।

यहां की पहाड़ियों और झरनों को पर्यटन का रूप देकर विकसित किया जा सकता है। जिनको सुविधाओं से वंचित किया गया है, उन्हें उनका हक और विकास की गंगा गांव में बहाने की जरूरत है और इस दिशा में भटक गये नवयुवकों को वापस लाने हेतु चन्दौली पुलिस मित्र की भूमिका निभा रही है।

जिलाधिकारी रिग्जियान सैम्फिल ने कहा कि, नौगढ़ के इतिहास का यह उत्सव आने वाले दिनों में यादगार साबित होगा। यह स्थानीय कलाकारों का प्लेटफार्म है। मिलजुल कर गांव के लोगों को रंगमंच से जोड़ा जा सकता है और उनके दर्द पर मरहम लगाकर जख्म भरा जा सकता है।

पुलिस अधीक्षक लक्ष्मीनारायण ने कहा कि, नौगढ़ के धरती पर लगे कलंक को पुलिस मित्र के रूप में धोने का प्रयास कर रही है। गांव के लोग अपनी समस्या फोन कर बतायें, हमारा आदमी आपके पास खड़ा मिलेगा।

समापन के दिन नौगढ़ महोत्सव बालिका वर्ग रस्साकसी में आठ टीमों ने भाग लिया था। ग्राम्या संस्थान लालतापुर की टीम फाइनल में सठवां को हराकर विजेता बनी। पुरुष वर्ग में 16 टीमों ने रस्साकसी में भाग लिया, जिसमें देउरा की टीम में श्रीपुर नरकटी को हरा कर ट्राफी पर कब्जा किया। वहीं वालीबाल में नर्वदापुर की टीम ने विशेशरपुर को हराकर शील्ड जीती।

कबड्डी प्रतियोगिता में पुरुष वर्ग ने उदीतपुर सर्रा की टीम ने चनेर की टीम को हराकर शील्ड पर कब्जा किया। वहीं बालिका वर्ग में ग्राम्या संस्थान लालतापुर की टीम ने कबड्डी में बाघी की टीम को हराया। कस्तूरबा बालिका विद्यालय नियमताबाद के छात्र-छात्रओं ने शानदार पीटी व शारीरिक व्यायाम का प्रदर्शन किया। जूडो कराटे में कलाकारों ने सीने पर ईंट फोड़ने का प्र्दशन किया। एआरटीओ चन्दौली द्वारा लगाये गये शिविर में नि:शुल्क लर्निंग ड्राइवरी लाइसेन्स 180 बेरोजगार युवको को वितरित किया गया। मुख्य अतिथि वाराणसी के पुलिस महानिरीक्षक गुरुदर्शन सिंह ने जहां विजयी प्रतिभागियों को शील्ड व ट्रैक सूट देकर सम्मानित किया, वहीं मुगलसराय से पधारे समाजसेवी नरेन्द्र प्रताप सिंह, जितेन्द्र जनेजा ने मुख्य अतिथि को समृति चिह्न देकर सम्मानित किया। प्रधान संघ के अचल कुमार सिंह व छोटेलाल खरवार ने अतिथियों को समृति चिह्न देकर सम्मानित किया।
इस अवसर पर विधायक जितेन्द्र कुमार ने कहा कि, अब नक्सलवाद नाम का कलंक नौगढ़ के साथ नहीं जुड़ेगा। आज महोत्सव के तीसरे दिन महुआ चैनल के महासुरसंग्राम के विजेता मोहन राठौर ने भोजपुरी गीतों से भीड़ को अपने काबू में रखा, वहीं रजंन श्रीवास्तव ने बम बम बोल रहा है काशी गाकर सभी का झुमा दिया। संचालन फैजाबाद से आये आकाशकाणी के देश दीपक मिश्र ने अपने अनूठे अन्दाज में करके सभी को मंच से जोड़े रखा। वहीं क्षेत्रीय सांस्कृतिक अधिकारी वाराणसी मिर्जापुर मण्डल डा. लवकुश के निर्देशन में सांस्कृतिक कार्यक्रम हुए। इस अवसर पर मुख्य रूप से अपर पुलिस अधीक्षक ऋषि पाल सिंह, आशुतोष कुमार शुक्ला, मधु राय, बिन्दु सिंह, कालिका प्रसाद ब्लाक प्रमुख उपस्थित रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पर्यटन स्थल बन सकती हैं नौगढ़ की पहाड़ियां: आईजी