class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जलवायु परिवर्तन पर पहले आधिकारिक मसौदे से भारत नाखुश

जलवायु परिवर्तन पर पहले आधिकारिक मसौदे से भारत नाखुश

जलवायु परिवर्तन पर जारी कोपेनहेगन सम्मेलन में वार्ताकारों ने पहला आधिकारिक मसौदा तैयार कर लिया है लेकिन इससे भारत नाखुश है। भारत का कहना है कि यह आम सहमति से बनाया गया पाठ नहीं है और उत्सर्जन के लिए उल्लेखित समय सीमा आपत्तिजनक है।

चार दिन की कवायद के बाद तैयार इस मसौदे पर अप्रसन्नता जाहिर करते हुए भारतीय प्रतिनिधिमंडल के एक सदस्य ने कहा कि यह पाठ आम सहमति से तैयार नहीं किया गया है। उन्होंने कहा कि इसे जल्दबाजी में लिखा गया है। कुछ ऐसे तकनीकी मुद्दे हैं जिन्हें स्पष्ट करने की जरूरत है।

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जलवायु परिवर्तन पर पहले आधिकारिक मसौदे से भारत नाखुश