class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खाद्य वस्तुओं के चार नमूने फेल, दो दोषी करार

मिलावटी खाद्य वस्तुओं के 36 नमूनों की जांच रिपोर्ट इस महीने प्राप्त हुई है। इनमें से चार नमूने फेल पाए गए। इन सभी मामलों को न्यायालय में दायर किया गया है। इनमें से दो को दोषी करार देते हुए उन्हें न्यायालय ने 6-6 महीने की सजा व जुर्माना सुनाया है। यह जानकारी सिविल सजर्न डॉ. एस. एस. दलाल ने जिला अधिकारियों की मासिक बैठक में उपायुक्त राजेंद्र कटारिया को दी। उपायुक्त ने सिविल सर्जन को निर्देश दिए कि वे खाद्य वस्तुओं के नमूने अधिक संख्या में भरवाएं ताकि मिलावट करने वालों पर शिकंजा कसा जा सके।


बैठक में इस बार यह निर्णय भी लिया गया कि इस महीने से प्रसव पूर्व निदान तकनीक अधिनियम के तहत अल्ट्रासाउंड केंद्रों का निरीक्षण करने वाली टीम में एक एचसीएस स्तर का अधिकारी भी साथ जाएगा। इस कार्य के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से जिले में बनाई गई 6 टीमों में एचसीएस अधिकारियों की ड्यूटियां शुक्रवार से लगा दी जाएंगी और वे अपने क्षेत्रों में अल्ट्रासाउंड केंद्रों का निरीक्षण कर उनके पास रिपोर्ट भेजेंगे। स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से जिला रेडक्रास सोसायटी की ओर से हाल में शुरू की गई रैफरल ट्रांसपोर्ट स्कीम को प्रभावी ढंग से लागू करने के भी उपायुक्त ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:खाद्य वस्तुओं के चार नमूने फेल, दो दोषी करार