अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वाहन चैकिंग के नाम पर मजदूरों से अवैध वसूली



 दादरी ग्रेटर नोएडा में लोगों से वाहन चैकिंग के नाम पुलिस द्वारा की जा रही अवैध वसूली से तंग आकर एसपी देहात के कार्यालय का घेराव कर जमकर हंगामा किया। चैकिंग के नाम पर की जा रही अवैघ वसूली को बंद करने, दोषी पुलिस कर्मचारीयों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। एसपी के न मिलने पर लोगों ने ज्ञापन सीओ शैलेन्द्र लाल को सौंपा, जिसमें पुलिस से चैकिं ग के नाम पर की जा रही वसूली को रोके जाने, कोट चौकी इंचार्ज बच्चाू सिंह के खिलाफ रिपोट दर्ज कर जेल भेजे जाने की मांग की है।
लोगों का कहना है कि वे घर से सुबह काम तलाश  करने के निकालते हैं तो वापस काम से लौटते हैं तो रास्ते में दादरी व ग्रेटर नोएडा की पुलिस उन्हे चैकिंग के नाम पर परेशान करती है। झूठे मामले में फसाकर जेल भेजने की धमकी देकर उनसे मजदूरी में मिले पैसों को झपट लेती है। दादरी कोट पुलिस चौकी इंचार्ज बच्चाू सिंह ने कलौदा गांव के दो युवकों अख्तर व मुनशैद को पैसा न देने पर इतना मारा की वह बेहोश हो गया और उनकी जेब में मजदूरी के रखे पांच सौ रुपए भी निकाल लिए। बाद उसके परिवार के लोग चौकी से उठाकर बुग्गी डालकर घर ले गए। एसपी देहात का घेराव करने आए लोगों का नेतृत्व कर रहे योगेश लुहारली ने बताया कि दादरी ,जारचा, कलौंदा, गुलावठी, एनटीपीसी दादरी के आसपास के गांवों के सैकड़ों की संख्या में गरीब व बेसहारा लोग रोजाना मजदूरी करने के लिए दादरी, ग्रेटर नोएडा व नोएडा एक्सप्रेस वे पर चल रहे निर्माण कार्ययों में काम करने के लिए एम्बेसडर कार,बाइक,साइकिल आदि से आते काम करने के लिए आते हैं वापस लौटते हैं तो उन्हें जारचा, दादरी, ग्रेटर नोएडा में पुलिस चैकिंग के नाम पर रोक लेती है। मजदूरी में मिले पैसों को यह धमकी देकर वसूल लेती है कि झुठे मामले में फसाकर जेल भेज दिया जाएगा। सैकड़ों मजदूर पुलिस की प्रताड़ना से तंग आ चुके हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वाहन चैकिंग के नाम पर मजदूरों से अवैध वसूली