DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दोस्त,दोस्त न रहे

भाजपा और बीजद की11 साल पुरानी दोस्ती टूटी राजग के सहयोगियों को एक मंच पर लाने में जुटी भाजपा को शनिवार देर रात बीजू जनता दल (बीजद) से नाता टूटने से तगड़ा झटका लगा। उड़ीसा में सीटों के बँटवारे पर सहमति न बन पाने से बीजद ने अकेले ही चुनाव लड़ने का फैसला किया। इस पर भाजपा ने भी राज्य में सरकार से समर्थन वापस ले लिया। नतीजन दोनों दलों की 11 साल पुरानी दोस्ती टूट गई। महाराष्ट्र और बिहार में भी पेंच फँसा हुआ है। हालाँकि, यूपी और असोम में भाजपा ने रालोद और असम गण परिषद(अगप) को चुनावी तालमेल के लिए राजी कर लिया है।ड्ढr उड़ीसा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने कहा कि दुर्भाग्यवश दोनों दलों में चुनावी तालमेल पर बात नहीं बन पाई। इसलिए बीजद अकेले चुनाव लड़ेगा। भाजपा द्वारा सुझाया गया फामरूला हमें मंजूर नहीं था। राज्य में कुल 21 लोकसभा सीटें हैं। बीजद 21 लोकसभा सीटों में से 16 पर दावा कर रही थी। 2004 के चुनाव में उसने 12 सीटों पर दावेदारी की थी। नाता टूटने के साथ ही भाजपा ने उड़ीसा सरकार से समर्थन वापस लेने का एलान किया है।ड्ढr उड़ीसा सरकार को खतरा नहीं : पेज 1यूपी और बिहार में कांग्रेसड्ढr भी कम परेशान नहीं ब्यूरोएजेंसी नई दिल्लीलखनऊ कांग्रेस ने बड़ी कुशलता से केंद्र में पाँच साल तक गठाोड़ की सरकार चलाई, लेकिन चुनाव में राह आसान नहीं दिख रही। यूपी में सीटों के तालमेल पर बात न बनने के बाद सपा से खटपट तेज हो गई है। वहीं, महाराष्ट्र, बिहार और कर्नाटक में अपने ही परेशान कर रहे हैं। पश्चिम बंगाल में भी तृणमूल कांग्रेस के साथ खिचड़ी नहीं पक पाई है।ड्ढr यूपी में सीटों के बँटवार को लेकर सपा और कांग्रेस दोनों ओर से बयानबाजी तेज है। सपा महासचिव अमर सिंह ने कहा कि हमारी तरफ से तालमेल नहीं टूटा बल्कि कांग्रेस ने तोड़ा है। कांग्रेस हमारी सिटिंग सीटों पर उम्मीदवार उतार सकती है तो हम भी एसा कर सकते हैं। हालाँकि उन्होंने यह भी कहा कि जिस सीट पर कांग्रेस हमसे ताकवर लगेगी वहाँ भाजपा-बसपा के खिलाफ हम उसे समर्थन दे सकते हैं। दूसरी ओर कांग्रेस ने कहा है कि वह सभी 80 सीटों पर लड़ने के तैयार है। सपा से बात टूट गई तो अगली सूची भी जारी कर दी जाएगी। कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने लखनऊ में कहा कि सपा को फ्रेंडली फाइट से कतराना नहीं चाहिए क्योंकि इससे दोनों पार्टियों को फायदा होगा।ड्ढr मुलायम दिल्ली पहुँचे : पेज 1

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दोस्त,दोस्त न रहे