class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बर्फ ने लाई शिमला में स्कैटिंग की खुशियां

शिमला के 9० वर्ष पुराने स्कैटिंग रिंग में बनी बर्फ की एक पतली परत ने  खिलाडिम्यों और पर्यटकों के बीच इस साल यहां स्कैटिंग करने की उम्मीद जगा दी है। पिछले वर्ष कम हिमपात की वजह से यहां स्कैटिंग का आनंद नहीं लिया जा सका था।

'आईस स्कैटिंग क्लब' के सचिव भुवनेश बांगा ने कहा, ''इस साल शिमला में समय से पड़ी ठंड ने अगले सप्ताहों में अच्छे स्कैटिंग सत्र होने की उम्मीद जगा दी है।'' क्लब ने एक अलग तरह का प्राकृतिक बर्फ का स्कैटिंग क्षेत्र बनाया है। इसे 192० में बनाया गया था। उन्होंने कहा, ''पिछले एक सप्ताह में स्कैटिंग क्षेत्र के कुछ हिस्से में प्राकृतिक बर्फ की पतली परत बन गई है। यद्यपि बर्फ बहुत जल्दी पिघल जाती है लेकिन कुछ स्थानीय लोग इसका आनंद ले रहे हैं।''

उन्होंने कहा, ''अब लगातार हो रहे हिमपात से पूरे प्रदेश में तापमान कम हो गया है। यदि यही स्थिति बनी रहती है तो स्कैटिंग क्षेत्र जल्दी ही बर्फ की एक मोटी परत के साथ तैयार हो जाएगा। रात के समय साफ आकाश और अच्छी बारिश पानी के जमने की आदर्श स्थितियां हैं।''

पिछले साल शौकिया खिलाडियों और पर्यटकों को सर्दियों में तापमान अधिक होने और लगभग न के बराबर हिमपात होने से निराशा हुई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बर्फ ने लाई शिमला में स्कैटिंग की खुशियां