class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बातों की बजाए काम में यकीन है: नीतीश

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य के सर्वांगीण विकास का संकल्प एक बार फिर से दुहराते हुए आज कहा कि वह बडी बडी घोषणाएं करने की बजाए काम करने में यकीन करते हैं और उनका काम ही बोलता है।


  कुमार ने जिले के पुरनहियाशिवहर पथ में बागमती नदी पर पीपराही घाट पर करीब 56.42 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाली उच्चस्तरीय आरसीसी पुल के कार्यारंभ समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि करीब चार वर्ष पूर्व जब उन्होंने राज्य की सत्ता संभाली थी तो राज्य की जनता त्राहिमाम कर रही थी और विकास के काम रूके पडे थे। उन्होंने कहा कि उनके कार्यकाल में जितने विकास के काम किए गए उतने काम पूर्ववर्ती राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के 15 वर्ष के शासनकाल में भी नहीं हुए थे।
 
कुमार ने कहा कि चार वर्ष के दौरान शुरू किए गए विभिन्न विकासात्मक कार्यों के सकारात्मक परिणाम अब दिखने लगे हैं और देश ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में बिहार को उसका स्थान दिया जाने लगा है। शिक्षा स्वास्थ्य सडक विधि व्यवस्था समेत सभी क्षेत्रों में व्यापक बदलाव आया है। लोगों के मन से अपराधियों का भय निकला है और कानून का राज स्थापित हुआ है। उन्होंने कहा कि अब लोग देर रात तक निर्भय होकर सड़कों पर घूमते हुए देखे जा सकते हैं। उन्होंने केन्द्र सरकार नाम लिए बिना कहा कि विकास कार्यों के लिए बारबार वित्तीय सहायता मांगे जाने के बावजूद उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दिया गया लेकिन अपने संसाधनों के बल पर ही हम हरसंभव प्रयास कर रहे हैं।
 

मुख्यमंत्री ने कहा हम किसी को छोड.कर नहीं बल्कि सभी वगरे को साथ लेकर चलने में विश्वास करते हैं और हमें सभी की बराबर चिंता है। उन्होंने कहा हमने ऐसा प्रबंध कर दिया है कि आने वाले वर्ष दो जून रोटी के लिए अन्य प्रदेशों में नहीं जाना पडे़गा। समारोह को बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी पथ निर्माण मंत्री प्रेम कुमार स्थानीय सांसद रामा देवी समेत अन्य नेताओं ने भी संबोधित किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बातों की बजाए काम में यकीन है: नीतीश