class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गोवा बमकांड की जांच एनआईए के हवाले

गोवा बमकांड की जांच एनआईए के हवाले

गोवा में हुए बम विस्फोट कांड की जांच इस अपराध के तार कथित रूप से देश के अन्य राज्यों से भी जुड़े होने की वजह से राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को सौंप दी गई है।

गोवा सरकार ने केन्द्र को हाल में एक अधिसूचना जारी की थी। उसके बाद एनआईए से इस साल 16 अक्टूबर को मडगांव में हुए बम विस्फोट मामले की जांच कराने को कहा गया था। इस धमाके में दो लोग मारे गए थे।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मामला दर्ज करने के बाद एनआईए ने एक टीम बनाकर उसे गोवा पुलिस से मामले की विस्तत जानकारियां हासिल करने के लिये भेजा था।

उन्होंने बताया कि यह जरूरी है कि मडगांव बमकांड मामले की जांच एनआईए ही करे क्योंकि इस विस्फोट को अंजाम देने में दक्षिणपंथी हिंदू संगठन सनातन संस्था भी कथित रूप से लिप्त है।

यह किसी हिन्दू संगठन से जुड़ा ऐसा पहला मामला है जिसे एनआईए को सौंपा गया है। इससे पहले वर्ष 2004 में नांदेड़ में हुए बम विस्फोटों के मामले की जांच सीबीआई को सौंपी गई थी। सनातन संस्था का मुख्यालय गोवा के पोंडा क्षेत्र में स्थित है और उसके सदस्य देश के विभिन्न राज्यों में हैं।

सूत्रों ने कहा जांच में पता चला है कि गोवा में स्थानांतरित होने से पहले सनातन संस्था का मुख्यालय मुम्बई में था। इस बीच, संस्था ने विस्फोट में हाथ होने के आरोपों से इनकार किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गोवा बमकांड की जांच एनआईए के हवाले