अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यात्रियों को लूटने वाले पुलिस की गिरफ्त में

रात के समय कैब में लिफ्ट देकर लूटपाट करने वाले चार बदमाश कोतवाली सेक्टर 20 पुलिस के हत्थे चढ़ गये। इनमें वह लुटेरो भी शामिल है जिसने 10 दिन पहले एक आईएएस के बेटे को निशाना बनाया था। इनकी निशानदेही पर 14 मोबाइल फोन, दो लैपटॉप, घड़ी व घटना में प्रयुक्त दो कारें बरामद की हैं। पकड़े गये सभी लुटेरे कार चालक हैं।


जानकारी के अनुसार बीती रात चार बदमाश फिएट पालियो कार से सेक्टर 16 गंदे नाले के पास खड़े थे। इसी बीच पुलिस को सूचना मिली। मौके पर पहुंची पुलिस ने घेराबंदी कर चारो बदमाशों को धरदबोचा। पकड़े गये बदमाशों की पहचान न्यूअशोकनगर दिल्ली निवासी नौशाद, सोरखा निवासी रवि यादव, गलीनंबर एक नयाबांस सेक्टर 15 निवासी राहुल मान तथा पालिका धाम गोलमार्केट क्नॉट प्लेस निवासी राजेश उर्फ राज के रूप में हुई है। इनकी निशानदेही पर लूटे गये 14 मोबाइल फोन, दो लैपटॉप, कलाई घड़ियां तथा दो कारें बरामद हुई हैं। इनके खिलाफ करीब एक दर्जन मुकदमें पंजीकृत हैं।


क्या है अपराध का तरीका- पकड़े गये बदमाश रात के करीब 9 से 11 बजे के बीच में चारों एक साथ गाड़ी लेकर निकलते थे और स्टैंडों पर खड़े यात्रियों को लिफ्ट लेकर बैठा लेते थे। कुछ दूर चलने के बाद ही चाकू की नोक पर उन्हें बंधक बना लूटपाट कर सूनसान स्थान पर छोड़कर फरार हो जाते थे।


ये हुए थे लुटेरों के शिकार- पकड़े गये बदमाशों ने 16 नवम्बर को बंसतरेंज कालोनी, दिल्ली कैंट निवासी श्रीकांत ठाकुर को निशाना बनाया था। 26 नवम्बर को मुबारकपुर, दिल्ली निवासी जितेन्द्र कुमार तथा 30 नवम्बर को आईएएस अधिकारी के बेटे रंजन पाठक को डीपीएस के पास लूटा था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:यात्रियों को लूटने वाले पुलिस की गिरफ्त में