DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आवास-विकास के नहले पर जीडीए का दहला

दोनों राष्ट्रीय राजमार्गो को जोड़ने वाली सड़क एलिवेटिड नहीं होगी। यह दोनों तरफ  दीवार कर मिट्टी डालकर बनाई जाएगी। बुलंदशहर बाईपास योजना में मकान बनाने वालों को इसका लाभ नहीं मिलेगा। पूरी रोड पर कोई क्लोवर लीफ भी नहीं होगा।


जीडीए एनएच 24 और 58 को जोड़ने वाली सड़क बनाएगा। पहले इसके लिए आवास विकास से धन मांगा गया। परिषद ने मना कर दिया। तो प्राधिकरण ने अकेले सड़क बनाने का फैसला लिया। इस सड़क के बनने से लोगों को दस किलोमीटर का चक्कर नहीं लगाना होगा। बगैर ट्रैफिक जाम में फंसे वे सीधे एक राष्ट्रीय राजमार्ग से दूसरे राष्ट्रीय राजमार्ग पर पहुंच सकते हैं। दिल्ली और नोएडा से मेरठ, हरिद्वार और उत्तराखंडे जाने वाले लोगों को इस सड़क का सबसे ज्यादा लाभ होगा। जीडीए दोनों तरफ दीवार बनाकर इस सड़क को बनाएगा। यह रोड एलिवेटिड नहीं होगी। इससे इस प्रस्तावित रोड के नीचे ट्रैफिक नहीं चल सकता। सड़क पर कोई क्लोवर लीफ नहीं होगा। करीब साढ़े चार किलोमीर लंबी सड़क पर बीच के एंट्री नहीं होगी। केवल एनएच 24 से चलने वाला ट्रैफिक सीधे 58 पर पहुंचेगा। जीडीए चीफ इंजीनियर अनिल गर्ग ने बताया कि यह सड़क जल्द बननी शुरू होगी। जीडीए ने प्लानिंग पूरी कर ली है। 74 मीटर चौड़ी सड़क पर करीब 139 करोड रूपए खर्च होगा। इस सड़क के लिए बनने वाले आरओबी(रेलवे ओवर ब्रिज) के लिए पच्चीस करोड का खर्च आएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आवास-विकास के नहले पर जीडीए का दहला