class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आरबीआई गवर्नर ने पूंजी प्रवाह संबंधी आशंका का किया दरकिनार

आरबीआई गवर्नर ने पूंजी प्रवाह संबंधी आशंका का किया दरकिनार

भारतीय रिजर्व बैंक ने गुरुवार को पूंजी प्रवाह से जुड़ी आशंकाओं को दरकिनार किया और कहा कि वह इन चीजों पर नजर रख रही है। आरबीआई के गवर्नर डी सुब्बाराव ने कहा कि यदि बाजार में नकदी बहुत अधिक है तो इसमें परिसंपत्ति की कीमत बढ़ाने की क्षमता होती है।

आरबीआई के केंद्रीय निदेशक मंडल की बैठक के बाद उन्होंने कहा कि परिसंपत्ति की कीमतों में बढ़ोत्तरी का जरूरी तौर पर यह मतलब नहीं होता है यह बुलबुला है। सुब्बाराव ने कहा कि पूंजी प्रवाह देश की जरूरत के अनुरूप है। उन्होंने कहा कि 2006-08 के दौरान जिस तरह का पूंजी प्रवाह हुआ था वैसा नहीं हो रहा।
   
उन्होंने कहा जब भी पूंजी प्रवाह अत्यधिक मात्रा में होता है तो हम स्थिति के अनुरूप कदम उठाएंगे। सुब्बाराव ने कहा कि अभी यह अनुमान लगाना संभव नहीं है कि पूंजी प्रवाह की गति पर लगाम लगाने के लिए केंद्रीय बैंक क्या कदम उठाएगा। आरबीआई ने कंपनियों द्वारा बुधवार को बाहय वाणिज्यिक उधारी के जरिए जुटाए जाने वाले धन संबंधी मानदंड को सख्त किया है। सुब्बाराव ने कहा कि कंपनियां अब गैर ऋण संबंधी साधनों के जरिए संसाधन जुटाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आरबीआई गवर्नर ने पूंजी प्रवाह संबंधी आशंका का किया दरकिनार