अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गुस्सैल प्रणव के मजाकिया अंदाज पर लगे खूब ठहाके

गुस्सैल प्रणव के मजाकिया अंदाज पर लगे खूब ठहाके

केंद्रीय वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी ने अपनी तुनकमिजाज और गुस्सैल छवि के उलट बेहद मजाकिया अंदाज में अपनी तुलना बिना इजाजत स्कूल से गायब हो जाने वाले शरारती बच्चों से करते हुए एक चुनावी सभा में लोगों को खूब हंसाया।

मुखर्जी ने यहां से लगभग 45 किलोमीटर दूर घाटशिला में कांग्रेस प्रत्याशी तथा पार्टी के झारखंड प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप बालमुचू के समर्थन में बुधवार शाम आयोजित सभा में कहा कि आपने शरारती बच्चों के स्कूल से बिना बताए फरार होने के बारे में सुना ही है। आज मेरी भी हालत कुछ वैसी ही है। संसद का सत्र चल रहा है वित्त मंत्री के तौर पर कई महत्वपूर्ण काम हैं पर मैं लोकसभा अध्यक्ष से इजाजत लिए बिना ही झारखंड विधानसभा चुनाव के प्रचार के लिए आ गया हूं।

बंद गले का काला सूट पहने मुखर्जी ने अपने गृह राज्य पश्चिम बंगाल की सीमा से सटे इस बंगाली बहुल कस्बे में लोगों के हंसी के ठहाकों के बीच बांग्ला भाषा के अपने संबोधन में कहा कि प्रधानमंत्री भी आज ही विदेश यात्रा से लौट कर आए हैं। मेरा दिल्ली में होना बहुत जरूरी है। इसलिए अब मै जल्द से जल्द वहां पहुंचना चाहता हूं, ताकि कल की सदन की कार्यवाही में शामिल रहूं।

सभा में पहुंचते ही सीधे भाषण शुरू कर देने वाले मुखर्जी संबोधन के दौरान भी बारबार घड़ी देख रहे थे, जिससे लग रहा था कि वह जल्द से जल्द भाषण निपटा कर लौटना चाहते हैं। संबोधन के बाद नीचे उतर कर वह काफी तेजी से अपने कार की ओर लपके और उन्होंने समय की कमी का हवाला देते हुए स्थानीय मीडियाकर्मियों से बात भी नहीं की और नई दिल्ली रवाना हो गए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गुस्सैल प्रणव के मजाकिया अंदाज पर लगे खूब ठहाके