class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हेडली कोर्ट में पेश, किया आरोपों से इनकार

हेडली कोर्ट में पेश, किया आरोपों से इनकार

एफबीआई द्वारा गिरफ्तार पाकिस्तानी-अमेरिकी और लश्कर-ए-तैयबा के संदिग्ध आतंकवादी डेविड कोलमैन हेडली ने यहां की अदालत में बुधवार को पेश किये जाने के बाद खुद को दोषी मानने से इनकार कर दिया। गौरतलब है कि दो दिनों पहले हेडली पर मुंबई आतंकी हमलों की साजिश में मदद देने का आरोप लगाया गया था।
   
इस वर्ष अक्टूबर में गिरफ्तार हेडली (49) ने डेनमार्क में आतंकी हमले करने की साजिश रचने के आरोपों से भी इनकार किया। इस मामले की अगली सुनवाई अब अगले वर्ष 12 जनवरी को होगी। पैरों में बेड़िया लगे हेडली को अदालत के समक्ष पेश किया गया और उस पर आपराधिक साजिश रचने के छह आरोप लगाये गये हैं ।
   
हेडली पर भारत में सार्वजनिक स्थानों पर बम रखने, भारत और डेनमार्क में लोगों की हत्या करने की साजिश रचने, विदेशी आतंकवादियों की साजिश में मदद करने और पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन लश्कर-ए- तैयबा को मदद मुहैया कराने के आरोप लगाये गये हैं।
    
हेडली का पूर्व का नाम दाउद गिलानी था। उसने 2006 में अपना नाम बदला था ताकि भारत में वह स्वयं को एक अमेरिकी के रूप में पेश कर सके मुस्लिम या पाकिस्तानी के रूप में। यहां की संघीय अदालत में दाखिल आरोपों के मुताबिक हेडली ने 26 नवंबर को मुंबई पर आतंकी हमलों से दो वर्ष से पूर्व हमलों के ठिकानों की टोह ली थी, कई स्थानों की तस्वीरें और वीडियोटेप बनाये और उन्हें हमलावरों को सौंपा था। गौरतलब है कि बीते वर्ष 26 नवंबर को हुए आतंकी हमलों में 166 लोग मारे गये थे।

इलिनोइस के अटार्नी पैट्रिक जे फित्जेराल्ड और एफबीआई के शिकागो स्थित कार्यालय के स्पेशल एजेंट इन चार्ज राबर्ट डी ग्रांट ने हेडली पर सोमवार को आरोप लगाये थे। हेडली पर आपराधिक सूचना देने के 12 आरोप लगाये गये है और भारत में अमेरिकी नागरिकों की हत्या और उसे उकसाने के लिए मदद देने के छह आरोप लगाये गये हैं। आरोप तय करने की सुनवाई के बाद हेडली के वकील ने जान थेइस ने कहा कि उसके मुवक्किल ने अपना दोष स्वीकार नहीं किया है। अदालत के बाहर थेइस ने कहा कि आने वाले कुछ सप्ताहों और महीनों में हम इस संबंध में साक्ष्य देंगे।

डेनमार्क में आतंकी हमले की साजिश रचने में मदद के आरोप को छोड़कर हेडली पर जितने भी आरोप लगाये गये है उसके साबित होने पर उसे अधिकतम आजीवन कारावास की सजा हो सकती है। हेडली ने पाकिस्तान स्थित लश्कर ए तैयबा के शिविरों में प्रशिक्षण भी लिया था। एफबीआई ने कनाडाई नागरिक तहव्वुर हुसैन राणा को भी गिरफ्तार किया है जो हेडली का साथी है। जब थेइस से पूछा गया कि क्या भारतीय अधिकारी हेडली से पूछताछ कर सकते हैं तो, उसने कहा कि यदि वे इस संबंध में कोई अनुरोध करते तो, हमारे समक्ष मामले आने पर हम विचार करेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हेडली कोर्ट में पेश, किया आरोपों से इनकार