अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बजरंगी के भाई पर पांच हजार का इनाम घोषित

रामपुर ब्लाक के पूर्व खण्ड विकास अधिकारी हरिलाल के साथ र्दुव्यवहार करने के मुख्य आरोपित एवं मुन्ना बजरंगी के भाई भुआल सिंह की गिरफ्तारी के लिए बुधवार को बड़ी संख्या में जिले की पुलिस ने पूरेदयाल कसेरू गांव में उसके घर पर छापेमारी की।

घरों में घुसकर तलाशी ली गयी, लेकिन भुआल हाथ नहीं लगा। कुछ देर तक पूरा गांव पुलिस छावनी में तब्दील हो गया। पूरे गांव में अफरा-तफरी मची रही। इस बीच प्रशासन ने भुआल पर पांच हजार का इनाम घोषित कर दिया।

बीडीओ हरिलाल के साथ र्दुव्यवहार का मामला जिला प्रशासन व पुलिस के लिए चुनौती बन गया है। इस मामले में भुआल सिंह समेत चार लोग आरोपित हैं। भुआल सिंह उर्फ गुड्डू मुन्ना बजरंगी का छोटा भाई है। प्रशासन ने उस पर गैंगस्टर भी लगा दिया है।

ज्ञात हो कि नरेगा के चेक भुनाने के लेकर मुन्ना बजरंगी के भाई व प्रमुख निकेता सिंह के पति भुआल सिहं उर्फ गुड्डू पर प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी। इसके बाद यहां तैनात आदित्य प्रसाद पांडेय तथा हरिलाल दोनों खण्ड विकास अधिकारियों ने काम करने से इनकार कर दिया था।

हरिलाल को जिला प्रशासन ने बाकायदा सुरक्षागार्ड मुहैया करा रखा है। जिला प्रशासन ने अन्तत: आईएएस अधिकारी/ज्वाइंट मजिस्टेट के. विजयेन्द्र पाण्डियन को वहां तैनात किया। रामपुर संवादसूत्र के अनुसार, बुधवार को अपर पुलिस अधीक्षक दिनेशचन्द्र के नेतृत्व जिले के आधा दजर्न थानों की पुलिस अपराह्न दो बजे पूरे दयाल कसेरू गांव पहुंची। लगभग एक घंटे तक फोर्स ने घर की तलाशी ली।

मुन्ना बजरंगी की मां श्रीमती लीलावती सिंह तथा छोटे भाई गुप्ता सिंह से काफी देर तक पूछताछ की। छोटा भाई गुप्ता भुआल के बारे में कोई जानकारी नहीं दे सका। एसपीआरए दिनेशचन्द्र ने बताया कि, भुआल पर पांच हजार का इनाम घोषित किया गया है।

पुलिस टीम में मड़ियाहूं कोतवाल ईशा खां, थानाध्यक्ष सुरेरी संजय राय, एसओ रामपुर हेमन्त कुमार सिंह, नेवढ़िया के राम किशुन, बरसठी पांडेय, मीरगंज थानाध्यक्ष धीरेन्द्र चौधरी तथा पवांरा थानाध्यक्ष वीरेन्द्र प्रसाद आदि शामिल थे। उनके साथ डेढ़ सेक्शन पीएसी के जवान भी थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बजरंगी के भाई पर पांच हजार का इनाम घोषित