DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

केमिकल फैक्टरी में आग, बम की तरह फटे ड्रम

पनकी इण्डस्ट्रियल एरिया में केमिकल फैक्टरी में आग से अफरा-तफरी मच गई। आग की लपटों से घिरे कई ड्रम फटने के बाद उछल कर पड़ोस की फैक्टरियों में गिरे। ड्रम गिरने से दो फैक्टरियाँ और भी आग की चपेट में आ गई। उन फैक्टरियों को खाली कराया गया।

एक दजर्न से ज्यादा फायर ब्रिगेड की गाड़ियों ने दो घंटे तक मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। हादसे के समय ज्यादातर मजदूर जा चुके थे। अंदर फँसे मजदूरों ने भाग कर जान बचाई। फैक्टरी मालिक का कहना है कि शार्ट सर्किट से आग लगी। माना जा रहा है कि नुकसान 50 लाख रुपए से ज्यादा का हुआ है। अभी आंकलन नहीं हो सका।

पनकी इण्डस्ट्रियल एरिया के उद्योग कुंज सी-15 स्थित अनुराधा त्यागी की निक्की-चिक्की केमिकल फैक्टरी में मंगलवार की शाम 6 बजे अचानक आग लग गई। उस समय फैक्टरी के ज्यादातर कर्मचारी जा चुके थे। अंदर मौजूद कर्मचारियों ने आग पर पानी फेंक कर काबू पाने की कोशिश की।

हालांकि केमिकल के ड्रम होने से आग फैलती गई। बस के बाहर लपटें देख मजदूर बाहर की ओर भागे। देखते ही देखते गोदाम और बाहर रखे केमिकल ड्रम आग की चपेट में आ गए। उधर से गुजर रहे नागरिक सुरक्षा के डिप्टी डिवीजन वार्डेन बद्री प्रसाद दीक्षित ने पुलिस को सूचना दी।

भयंकर आग की सूचना पर फायर ब्रिगेड की गाड़ियाँ पहुँच गई। उस समय तक कई फिट की लपटें उठ रही थीं। बाहर रखे केमिकल के ड्रम धमाके के साथ फटने लगे। कई ड्रम पीछे की प्रिटिंग प्रेस ब्लाक और कागज बनाने वाली फैक्टरी में गिरे। इन दोनों फैक्टरी में भी अफरा-तफरी मच गई।

कर्मचारियों ने सामान हटाना शुरू कर दिया। दोनों फैक्टरियों में सामान जलने लगा। फायरब्रिगेड के जवानों ने चारों ओर से घेर कर पानी फेंका। साथ ही पड़ोस की फैक्टरियों की आग पहले बुझाई। लगभग दो घंटे तक कवायद के बाद आग पर काबू पाया जा सका।

फैक्टरी मालिक का कहना है कि परिवार में शादी समारोह होने से कर्मचारी जा चुके थे। समझा जा रहा है कि जाते समय बिजली आफ करने के लिए स्विच गियर गिराया गया। इससे शार्ट सर्किट होने से आग लग गई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:केमिकल फैक्टरी में आग, बम की तरह फटे ड्रम