class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुल निर्माण में विभाग लगा रहा है अड़ंगे

विकासखंड घाट में बूरा तक मोटर मार्ग के निर्माण में 48 मीटर स्पान मोटर सेतु बनाने में जन प्रतिनिधियों द्वारा विभाग पर जान बूझकर निर्माण शुरू न करने के आरोप को अस्वीकार करते हुए अधीक्षण अभियंता लोक निर्माण विभाग ने कहा कि विभाग पुल के निर्माण में कोई अवरोध उत्पन्न नहीं कर रहा है।

उल्लेखनीय है कि सोमवार 7 दिसंबर को घाट विकासखंड के जन प्रतिनिधियों का एक प्रतिनिधिमंडल अधीक्षण अभियंता लोनिवि से मिला और आरोप लगाया कि क्षेत्र के विभिन्न पुलों के निर्माण में विभाग जान बूझकर अड़ंगे लगा रहा है। अधीक्षण अभियंता लोनिवि केके श्रीवास्तव ने बताया कि विकासखंड घाट के अंतर्गत बूरा मोटर मार्ग में एक किमी. में 48 मीटर स्पान का पुल प्रस्तावित है।

जिसके निर्माण की स्वीकृति के लिए यूआरआरडीए देहरादून द्वारा कार्यवाही की जा रही है। उन्होंने विभाग का तकनीकी पक्ष रखते हुए कहा कि पूर्व में क्लास बी लोडिंग जिसमें हल्के वाहन और मोटर चलती थी के लिए ही सेतु बनाये जाते थे। परंतु मार्गो पर यातायात की बढ़ोत्तरी को देखते हुए विभाग ने अब क्लास ए लोडिंग के अनुसार सेतु बनाये जाने के आदेश प्राप्त हुए हैं। वर्तमान में 48 स्पान क्लास के लिए ए लोडिंग का डिजायन विभाग में उपलब्ध नहीं है और इसके लिए यूआरआरडीए देहरादून द्वारा कार्यवाही की जा रही है। ड्राइंग उपलब्ध होने पर सेतु का निर्माण किया जाएगा।

इधर, घाट के जन प्रतिनिधियों का कहना है कि एससीपी योजना के तहत सलबगड़ बूरा तथा राज्य योजना के तहत घाट सुतोल कनोल, घाट तेलाण थराली सहित कई अन्य मोटर मार्ग स्वीकृत हुए हैं लेकिन इन पर विभाग द्वारा निर्माण ही शुरू नहीं कराया जा रहा है। जन प्रतिनिधियों का यह भी कहना है कि कर्णप्रयाग पीडब्ल्यूडी से घाट की सड़कों व पुलों को दूसरे डिवीजन को हस्तांतरित की जाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पुल निर्माण में विभाग लगा रहा है अड़ंगे