DA Image
3 जून, 2020|2:17|IST

अगली स्टोरी

डिडवानिया के सीज प्रतिष्ठानों पर आयकर सर्वे

आयकर विभाग के अफसरों ने डिडवानिया बंधुओं के सीज प्रतिष्ठान व ‘रहस्यमय’ लॉकर की छानबीन में बड़े पैमाने पर कर चोरी का खुलासा किया है। संयुक्त आयकर आयुक्त (अन्वेषण) अभय ठाकुर ने बताया कि सिर्फ दो प्रतिष्ठानों से 1.07 करोड़ की कर चोरी पकड़ी गयी है। वह भी उन दस्तावेजों के आधार पर जिसे डिडवानिया बंधुओं ने खुद अफसरों को मुहैया कराया है।

सोमवार को लोहटिया स्थित सबसे पुराने सीज प्रतिष्ठान के सर्वे के बाद आयकर अफसर मंगलवार को मध्याह्न् में रामनगर स्थित बिस्कुट फैक्ट्री पहुंचे। दो वाहनों से पहुंचे अफसरों ने फैक्ट्री परिसर में प्रवेश करने के बाद मुख्य द्वार को बंद करवा दिया। देर शाम तक सर्वे चलता रहा।

इस दौरान न तो किसी को अंदर घुसने दिया गया और न कोई बाहर न निकल सका। सर्वें की कार्रवाई के दौरान रामनगर औद्योगिक क्षेत्र में अफवाहों का बाजार गर्म रहा। सूत्रों का कहना है कि अफसरों के निरंतर पड़ते दबाव पर डिडवानिया बंधु टूट चुके हैं। अब डिडवानिया बंधु खुद उन दस्तावेजों एवं रिकार्ड अफसरों को मुहैया करा रहे हैं, जिन पर अफसरों की या तो नजर नहीं पड़ी थी या फिर अन्यत्र कहीं छुपा कर रखे गए थे।

पिछले दिनों 24 घंटे से अधिक समय तक एक साथ 18 प्रतिष्ठानों-मकानों पर चले सर्च/सर्वे की कार्रवाई के दौरान अफसरों के हाथ लगे दस्तावेजों की छानबीन अभी जारी है। सीज प्रतिष्ठानों एवं डिडवानिया बंधुओं द्वारा मुहैया कराये दस्तावेजों के आधार पर 1.07 करोड़ की कर चोरी पकड़ी गयी है।

ठाकुर ने बताया कि लोहटिया स्थित सीज सबसे पुराने प्रतिष्ठान पर मिले दस्तावेजों एवं अन्य कागजातों के साथ डिडवानिया बंधुओं द्वारा मुहैया कराये गये कागजात के आधार पर यहां एक करोड़ की कर चोरी पकड़ी गयी जबकि रामनगर स्थित बिस्कुट फैक्ट्री पर सात लाख की कर चोरी पकड़ी गयी। उन्होंने बताया कि बुधवार को सीज बैंक लॉकरों को खोलने की कार्रवाई होगी। इसमें सर्वाधिक लॉकर यूको बैंक के हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:डिडवानिया के सीज प्रतिष्ठानों पर आयकर सर्वे