DA Image
24 फरवरी, 2020|8:09|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सेना सेवा कोर ने 249वीं मनाई वर्षगांठ

सेना सेवा कोर की 249वीं वर्षगांठ के मौके पर आज लखनऊ छावनी में मध्य कमान के युद्ध स्मारक स्मतिका पर माल्यार्पण कर वीर शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि दी गयी।


 सेना सेवा कोर द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार, मध्य मकान के सेनाध्यक्ष ल़े जनरल जेके मोहन्ती ने इस अवसर पर कोर के अधिकारियों, पर्सनल बिलो आफिसर रैंको, असैन्य कर्मियों को हार्दिक बधाई दी । उन्होंने इस कोर के कर्मियों की प्रशंसा करते हुए कहा कि सेना की जएरतों को तत्परता के साथ पूरा करने में इस कोर की अहम भूमिका है। सेना सेवा कोर का इतिहास सन 1760 से शुए हुआ, जब इसे एडमिनिस्ट्रेटिव यूनिट के नाम से जाना जाता था। वर्तमान में यह सेना सेवा कोर के नाम से प्रख्यात है। इस कोर का सूत्र वाक्य है सेवा ही हमारा धर्म है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:सेना सेवा कोर ने 249वीं मनाई वर्षगांठ