class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सस्ती गैस आपूर्ति से आरआईएल को नुकसान नहीं: अनिल समूह

सस्ती गैस आपूर्ति से आरआईएल को नुकसान नहीं: अनिल समूह

अनिल अंबानी के नेतृत्व वाली कंपनी आरएनआरएल ने मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में कहा कि मुकेश अंबानी की आरआईएल से 17 साल तक 2.34 डॉलर पर सुनिश्चित मात्रा में गैस हासिल करना उसका बिना शर्त
अधिकार है। कंपनी ने यह भी कहा है कि इस दर से गैस आपूर्ति करने पर सरकार और आरआईएल दोनों को ही कोई नुकसान नहीं होगा।

अंबानी गैस विवाद की सुनवाई कर रही मुख्य न्यायाधीश केजी बालकृष्णन की अध्यक्षता वाली पीठ के समक्ष प्रस्तुत हलफनामें में आरएनआरएल ने कहा कि सरकार पर कोई असर नहीं होगा और न ही उसे कोई नुकसान होगा। आरआईएल को भी इस दर पर 30,000 करोड़ रुपए का मुनाफा होगा।

आरएनआरएल ने हलफनामे में कहा कि यदि सरकार गैस की कीमत 4.20 डॉलर प्रति एमएमबीटीयू लगाती है और आरआईएल, आरएनआरएल को 2.34 डॉलर प्रति एमएमबीटीयू की दर से गैस बेचती है तब भी सरकार को गैस बिक्री से पूरा मुनाफा मिलेगा।

हलफनामें में कहा गया है कि आरएनआरएल कहना चाहती है कि कंपनी के पास 2.34 डॉलर प्रति एमएमबीटीयू की दर से 17 साल तक रोज 2.8 करोड़ घन मीटर गैस बिना शर्त प्राप्त करने का अधिकार है। कंपनी ने कहा कि आरआईएल यह कहकर अपना लाभ अतिशय बढ़ाने की कोशिश कर रही है कि गैस सिर्फ 4.20 डॉलर प्रति एमएमबीटीयू की दर से बेची जा सकती है।

आरएनआरएल के चार पृष्ठ के हलफनामे में कहा गया है,  आरआईएल का यह कहना कि गैस सिर्फ 4.20 डॉलर पर ही बेची जा सकती है, अपने लाभ को अतिशय बढ़ाने का उसका प्रयास मात्र है। सरकार को इस कीमत से कोई अतिरिक्त मुनाफा नहीं होगा, सिर्फ आरआईएल को ही इसका फायदा होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सस्ती गैस आपूर्ति से आरआईएल को नुकसान नहीं: अनिल समूह