class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्यार से भी जरूरी कई काम हैं...

प्यार से भी जरूरी कई काम हैं...

जिंदगी में और भी फसाने हैं मोहब्बत के सिवा...। यह बात इंटरनेट पर भी बखूबी लागू होती है। इंटरनेट क्रांति के बाद इसके उपयोग को लेकर लोगों में रुझान को लेकर कई शोध हुए। इन शोधों में यही बात प्रमुखता में सामने आई कि इंटरनेट मतलब मस्ती। हाल ही में कनाडा में भी किए गए एक शोध में यह बात सामने आई कि जो भी लोग इंटरनेट पर आते हैं वे पॉर्न जरूर देखते हैं। लेकिन, जनाब अगर आप भी यही सोच रहे हैं तो आप गलत हैं। ग्लोबल लैंगुएज मोनीटर के ताजा रिपोर्ट में दशक की सबसे अधिक पढ़ी गई खबर कोई मनोरंजक या चटपटी खबर नहीं थी, बल्कि चीन के आर्थिक सुपरपॉवर के रुप में उभरने की खबर इस सूची सबसे टॉप पर रही।

`ग्लोबल लैंगुएज मोनीटर' के आंकड़ों के अनुसार इस सूची में अगर हम टॉप-15 खबरों को देखें तो भी यही बात उभरकर सामने आती है कि इंटरनेट खबरों के लिए सर्वाधिक महत्वपूर्ण है। इस सूची में दूसरे स्थान पर इराक युद्ध, तीसरे पर 9/11 हमला, चौथा, आतंक के खिलाफ जंग, पांचवें माइकल जैक्सन की मौत, छठे ओबामा का चुनाव, सातवें वैश्विक मंदी, आठवें  कैटरीना तूफान,  नौवें अफगानिस्तान युद्ध, दसवें सुनामी, ग्यारहवें बीजिंग ओलंपिक, बारहवें दक्षिण एशिया में सुनामी,  तेरहवें तालिबान के खिलाफ युद्ध,  चौदहवें पोप जॉन पॉल द्वितीय की मौत,  पंद्रहवें ओसामा बिन लादेन। साफ है खबरों के लिए इंटरनेट का वृहद पैमाने पर प्रयोग किया जाता है।

अब सोशल नेटवर्किंग साइट ट्वीटर के आंकड़ों पर गौर फरमाइए। भारत में ट्वीटर पर आने वाले 16 फीसदी भारतीय नियमित तौर पर खबरों के लिए आते हैं। सूचना और जानकारी की तड़प लोगों में किस कदर बढ़ रही है इसका ज्वलंत उदाहरण `पियु इंटरनेट व अमेरिकन लाइफस्टाइल' के इस अध्ययन से साबित होता है जिसमें कहा गया है कि 5 इंटरनेट अमेरिकी उपयोगकर्ताओं में से एक सोशल नेटवर्किंग साइट का इस्तेमाल यह पूछने के लिए करता है कि आप क्या कर रहे हैं?

एक अन्य शोध पर गौर फरमाइए, जिसके अनुसार किसी जरूरी सामग्री की तलाश में लोग इंटरनेट को ही खंगालना ज्यादा सही मानते हैं। किताबों में किसी सामग्री को खोजना इंटरनेट के मुकाबले एक दुरुह काम है। इंटरनेट में सिर्फ एक क्लिक पर यूजर जरूरी सूचना प्राप्त कर पाता है, शायद यही कारण है कि एक शोध के मुताबिक इंटरनेट पर आने वाले 80 फीसदी लोग सूचना की तलाश में आते हैं, उनमें भी 40 फीसदी इंटरनेट उपभोक्ता क्षेत्रीय सामग्री के लिए इसका उपयोग करते हैं। साफ है इंटरनेट की दुनिया में खबरों का बाजार तेजी से बढ़ रहा है।

इंटरनेट का बहुआयामी उपयोग बढ़ रहा है। विकसित देशों के साथ-साथ भारत और चीन जैसे देशों में भी इसका तेजी से फैलाव हुआ है। आंकड़ों के मुताबिक इंटरनेट के माध्यम से ऑनलाइन खरीददारी करने वाले लोगों की संख्या भारत व चीन में तेजी से बढ़ रही है।

वीजा इकामर्स कंज्यूमर मानिटर सर्वे में यह निष्कर्ष निकाला गया है। इसके अनुसार एशिया प्रशांत क्षेत्र में इंटरनेट उपयोक्ताओं में ऑनलाइन शापिंग के प्रति काफी मोह देखा जा रहा है। तिमाही दर तिमाही के आधार पर आनलाइन शापिंग में भारत व चीन ने पिछले छह माह में सबसे मजबूत बढोतरी रही।
  
सर्वे का कहना है कि इन दोनों देशों में मध्यम वर्ग तथा इंटरनेट का इस्तेमाल तेजी से बढ रहा है इसलिए इसमें हैरानी नहीं है कि आनलाइन शापिंग भी तेजी से बढी है। इसके अनुसार एशिया प्रशांत क्षेत्र में सर्वे में शामिल दस में से नौ (89 प्रतिशत) लोगों ने कहा कि उन्होंने पिछले 12 माह में आनलाइन शापिंग की। सबसे अधिक आनलाइन शापिंग करने वाले कोरिया में 97 प्रतिशत हैं। इसके बाद चीन व जापान (94 प्रतिशत) का नंबर आता है।

लोगों में सूचना कि ललक इस कदर बढ़ी है कि अब कई कंपनियां मोबाइल के द्वारा समाचार उपलब्ध करा रही हैं। कई समाचार वेबसाइटों के मोबाइल संस्करण भी बनाए जा चुके हैं। अब तो सोशल नेटवर्किंग एप्लिकेशंस से युक्त मोबाइल हैंडसेट का ही जमाना है। ‘न सिर्फ ये स्टेटस सिंबल का प्रतीक हैं, बल्कि वर्तमान माहौल में कामकाज के मद्देनजर भी कई तरह से उपयोगी हैं।’ इंटरनेट की लोकप्रियता जिस तरह से बढ़ी है, उसको ध्यान में रखते हुए तमाम मोबाइल कंपनियां ऐसे बेहतरीन हैंडसेट बना चुकी हैं और निरंतर ऐसे नए मॉडल पेश कर रही हैं, जिनमें नेट सर्फिंग की बेहतर सुविधा मौजूद हो। इससे संबंधित तकनीक को और उपयोगी और सुविधाजनक बनाने का प्रयास भी मोबाइल निर्माता कंपनियों द्वारा किया जा रहा है।

साफ है, इंटरनेट का बहुआयामी उपयोग है। मनोरंजन के साथ-साथ लोग जानकारी व सूचना से लेने के लिए भी इसका वृहद पैमाने पर प्रयोग कर रहे हैं। सुविधाओं को जैसे-जैसे ऑनलाइन बनाया जा रहा है, उसका उपयोग भी बढ़ता जा रहा है। ई-बिजनेस, ई-खरीददारी, ई-टिकट, ऑनलाइन बैंक सुविधा सब इसी उपयोग के बढ़ते आयामों को दर्शाते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:प्यार से भी जरूरी कई काम हैं...