DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुसाफिरों को मंजिल तक पहुंचा तोड़ा दम

बस में 50 से भी ज्यादा सवारियां। बस पूरी रफ्तार से चल रही थी। अचानक ड्राइवर को हार्ट अटैक पड़ गया। ड्राइवर असहनीय दर्द के बावजूद बस चला रहा था। करीब सात किलोमीटर तक इसी हालत में बस को चलाते हुए स्टेशन तक लाया। बस के सुरक्षित रुकते ही स्ट्रेयरिंग पर वह निढाल हो गया। कुछ ही पल में उसने दम तोड़ दिया।

सोमवार की सुबह निजी बस संख्या यूपी 11 ई 3387  आठ बजकर 15 मिनट पर हथनीकुंड से सवारियां लेकर सहारनपुर के लिए रवाना हुई। बस में ताजेवाला, रायपुर, नौशेरा, आलमपुर आदि इलाकों के पचास से ज्यादा सवारियां थीं। आलमपुर के गोहर से बस के चलते ही 40 वर्षीय ड्राइवर जावेद खान के दिल में दर्द शुरू हो गया।

यह दिल के दौरे का लक्षण था। ड्राइवर ने कंडक्टर को अपनी हालत के बारे में इशारे से बताया लेकिन उस वक्त वह समझ नहीं पाया। जावेद बस को आलमपुर से बेहट तक चलाते हुए लेकर आया और शाकंभरी तिराहे पर रोक दिया।

कंडक्टर शोयब खान ड्राइवर को चिकित्सक मणिराम त्रिपाठी के यहां ले गया। डा. त्रिपाठी ने ड्राइवर को मृत घोषित कर दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुसाफिरों को मंजिल तक पहुंचा तोड़ा दम