class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लो ब्लड प्रेशर

निम्न रक्तचाप पाचनक्रिया ठीक न होने, मोटापे की चिंता, कम खाने से रक्त में आयरन की कमी, अधिक सहवास और कई कारणों से हो सकता है। इस समस्या में चक्कर आना, हमेशा सिर भारी रहना, थकावट रहना, घबराहट, मानसिक तनाव, हाथ-पांव ठंडे रहना आदि इस प्रमुख लक्षण हैं।

आहार : सर्वप्रथम अपने पाचनतंत्र को ठीक रखना अति आवश्यक है। धूम्रपान, मद्यपान का सेवन निषेध है। हरी सब्जियों को सेवन अधिकाधिक मात्र में करें, फलों का रस लें। बादाम, किशमिश, मुनक्का की 7-7 गिरियां अवश्य लें।

आसन : सभी प्रकार के आसन कर सकते हैं जैसे ताड़ासन, त्रिकोणासन, कटिचक्रासन, पादहस्तासन, चक्रासन, धनुरासन, भुजंगासान, सूर्य नमस्कार आदि। सूर्य नमस्कार निम्न रक्तचाप की समस्या के लिए रामबाण का
कार्य करेगा।

विधि चक्रासन : किसी दरी या कम्बल पर कमर के ऊपर लेट जाएं। अब दोनों घुटने मोड़कर, पैरों की एड़ियों को हिप के नजदीक लाएं। दोनों हाथों को सिर के ऊपर से मोड़ते हुए जमीन पर दोनों हथेलियों को कंधों के एकदम पास स्थापित करें। अब एक लंबा श्वास लेकर पूरे धड़ को दोनों हाथों और टांगों पर बराबर भार लेते हुए ऊपर उठा दें।

मुश्किल आसन है। पहली बार किसी की सहायता से करें। कोशिश करें कि दोनों कोहनियां और दोनों घुटने अधिक से अधिक सीधे हो जाएं ताकि धड़ अधिक से अधिक ऊपर उठे। यथाशक्ति इस आसन को सामान्य श्वासों के साथ रोके रखें। वापस आकर पुन: इस आसन को करें।

प्राणायाम : कपाल भाति, भस्त्रिका, नाड़ीशोधन, प्राणायाम बहुत ही उत्तम माने गए हैं इस समस्या के लिए।

विश्राम : आसन प्राणायाम करने के पश्चात लगभग 10 मिनट योगनिद्रा का अभ्यास अवश्य करें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लो ब्लड प्रेशर