class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ठंड के कारण बच्चों की बढ़ी परेशानी

बढ़ते ठंड के कारण छोटे बच्चों में सेहत संबंधी परेशानियां लगातार बढ़ रही हैं। बच्चों में वायरल डायरिया, खांसी जुकाम और सीने में दर्द की परेशानी सबसे ज्यादा आ रही है। इनमें से खांसी जुकाम तो बदलते मौसम के साथ होना आम बात है मगर वायरल डायरिया और सीने में होने वाले दर्द से बच्चाों को सबसे ज्यादा तकलीफ हो रही है।


महिला अस्पताल की शिशु रोग विशेषज्ञ डॉक्टर सुचेता दिनकर ने बताया कि सर्दी बढ़ने के कारण बच्चाों को कफ की परेशानी हो रही है। ऐसे में अगर कम खांसी में ही ध्यान नहीं दिया जाता है तो कफ बच्चाे के सीने में जमा हो जाता है। इसके कारण ही बच्चों को सीने में दर्द होता है और उन्हें सांस लेने में भी परेशानी होती है। सीने में कफ जमने के कारण बच्चों को बहुत मुश्किल होती है। और उनका इलाज भी थोड़ा मुश्किल हो जाता है।
बच्चों में कफ जमने से बचाने का सिफ एक ही उपाय है कि जैसे ही बच्चाे को जुकाम की शिकायत हो उसे तुरंत डॉक्टर को दिखाएं।


कफ सिरप नहीं मिलता--
सरकारी अस्पतालों में कफ सिरप नहीं मिलता है। जिसके कारण बच्चाों के सीने में जमे कफ का इलाज करने में डॉक्टरों को दिक्कत आती है। कफ ज्यादा जमने के बाद उन्हें मजबूरन मरीज को बाजार से कफ सिरप खरीदने के लिए कहना पड़ता है।

घरेलू उपाय--
- बच्चों को थोड़ा शहद चटाएं, बच्चा अगर थोड़ा बड़ा हो तो उसे रोज आधा से एक चम्मच शहद खाने को दें।
- छोटे बच्चों को तुलसी पत्ते का रस निकाल कर शहद मिला कर दें।
- बच्चों के सीने और पीठ में देसी घी हल्का गर्म करके लगाएं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ठंड के कारण बच्चों की बढ़ी परेशानी