DA Image
25 सितम्बर, 2020|6:13|IST

अगली स्टोरी

कर संधि में सुधार से सुलझेगा गुप्त खातों का जाल

कर संधि में सुधार से सुलझेगा गुप्त खातों का जाल

स्विटजरलैंड ने कहा कि भारत के साथ बैंकों खातों की जानकारी का आदान-प्रदान तभी संभव है जबकि दोनों देशों के बीच कर संधि में सुधार हो। स्विटजरलैंड के कर विभाग, फेडरल टैक्स एडमिनिस्ट्रेशन के प्रवक्ता बीट फ्यूरर ने कहा कि भारत और स्विटजरलैंड में मौजूदा दोहरी काराधान संधि को नयी आवश्यकताओं के अनुकूल बनाने के लिए बातचीत चल रही है।

जैसे ही संशोधित दोहरी कराधान संधि अमल में आएगी खातों के ब्यौरों का आदान-प्रदान संभव हो जाएगा। फ्यूरर ने कहा कि दोनों देशों के बीच दोहरा कराधान से बचाव के समझौता (डीटीएए) के मौजूदा प्रावधानों में ऐसी सूचनाओं के हस्तांतरण की व्यवस्था नहीं है। उन्होंने कहा कि इसलिए दोनों देशों के कर विभाग के बीच खातों से जुड़ी जानकारियों का कोई ब्यौरा पेश नहीं किया जा सका।

 

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:कर संधि में सुधार से सुलझेगा गुप्त खातों का जाल