अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत-रूस ने किये परमाणु करार पर हस्ताक्षर

भारत-रूस ने किये परमाणु करार पर हस्ताक्षर

भारत और रूस ने असैन्य परमाणु क्षेत्र में व्यापक सहयोग के एक समझौते पर सोमवार को दस्तखत किए जो भारत के परमाणु संयंत्रों के लिए तकनीक हस्तांतरण और यूरेनियम ईंधन की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करेगा। दोनों देशों ने इसके अलावा रक्षा क्षेत्र में तीन समझौतों पर भी हस्ताक्षर किए।

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और रूसी राष्ट्रपति दमित्री मेदवेदेव ने यहां क्रेमलिन में बातचीत के बाद इन समझौतों पर दस्तखत किए। दोनों नेताओं ने अफगानिस्तान से उपजते आतंकवाद समेत कई मुद्दों पर विचार विमर्श किया।
     
रूसी राष्ट्रपति मेदवेदेव के साथ एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में सिंह ने कहा कि आज हमने एक समझौते पर दस्तखत किए जिसने परमाणु संयंत्रों के लिए आपूर्ति से परे शोध, विकास और परमाणु उर्जा से संबंधित सभी क्षेत्रों में हमारे सहयोग को व्यापक कर दिया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि इस समझौते से दोनों देशों के बीच मौजूदा परमाणु सहयोग और प्रगाढ़ होगा जिसके तहत रूस तमिलनाडु के कुडनकुलम में चार नए परमाणु संयंत्र स्थापित करेगा और पांचवे संयंत्र के लिए पश्चिम बंगाल में जगह की पहचान की गई है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भारत-रूस ने किये परमाणु करार पर हस्ताक्षर